एक लैप्स्ड LIC इंश्योरेंस पॉलिसी को रिवाइव  कैसे करें

क्योंकि जीवन के किसी भी मोड़ पर किसी के साथ कोई भी घटना और दुर्घटना हो सकती है, ऐसे मे अनिश्चितताओं से  निपटने के लिए लाइफ़ इंश्योरेंस प्लाना का होना अत्यंत आवश्यक है।  एक लाइफ़ इंश्योरेंस पॉलिसी आपके न रहने पर आपके प्रियजनों के फाइनैन्शल भविष्य को सुरक्षित करने का सबसे अच्छा तरीक़ा है। जैसे एक लाइफ़ इंश्योरेंस पॉलिसी को ख़रीदना बहुत ज़रूरी है वैसे ही समय पर आपकी पॉलिसी को रिन्यू कराना और लैप्स्ड पॉलिसी को रिवाइवल करना भी उतना ही आवश्यक है।

Read more
Best Investment Options
  • Save upto ₹46,800 in tax under Sec 80C

  • Inbuilt Life Cover

  • Tax Free Returns Unlike FD

*All savings are provided by the insurer as per the IRDAI approved insurance plan. Standard T&C Apply

Get Guaranteed returns along with life cover
invest in 100% Guaranteed Return Plans Tax benefits under sec 80C & No Tax on returns*
+91
View Plans
Please wait. We Are Processing..
Plans available only for people of Indian origin By clicking on "View Plans", you agree to our Privacy Policy and Terms of Use #For a 55 year on investment of 20Lacs #Discount offered by insurance company Tax benefit is subject to changes in tax laws
Get Updates on WhatsApp

रिवाइवल को हम “जीवन में वापस लाने’ के रूप में परिभाषित कर सकते हैं।

इसके  रिवाइव यानि लाइफ़ इंश्योरेंस पॉलिसी के रिवाइव की आवश्यकता तब होती है जब भी इंश्योरर ग्रेस पीरियड के भीतर प्रीमियम का भुगतान करने में असफल रहता है और पॉलिसी का कवरेज लैप्स हो जाता है।  पॉलिसी के पुनर्जीवन यानि  पॉलिसी को फिर से चालू करने को सम्मिलित करना अत्यंत आवश्यक है क्योंकि ये इंश्योर किए गए व्यक्ति को पॉलिसी को रिन्यू करने एवं प्लान के कवरेज को जारी रखने का विकल्प प्रदान करता है। पॉलिसी का रिन्युअल के भुगतान नहीं किए गए प्रीमियम की तारीख़ से पाँच साल के भीतर कभी भी किया जा सकता है।

पॉलिसी को फिर से चालू करना

निम्नलिखित पाँच विभिन्न स्कीमों के अंतरगत LIC पॉलिसी को फिर से चालू किया जा सकता है।

साधारण पुनर्जीवन- इस  नीति के तहत इंश्योरेंस होल्डर ं ब्याज सहित सभी भुगतान नहीं किए गए प्रीमियमोंका एक बार में भुगतान करके अपनी लैप्स हुई जीवन बीमा पॉलिसी को रिवाइव  कर सकता है। हालाँकि फ़ॉर्म नंबर-680 के अंतर्गत पॉलिसी होल्डर से अच्छे स्वास्थ्य और मेडिकल रिपोर्ट की घोषणा को माँगा जा सकता है।

विशेष रिवाइवल -इस स्कीम  के अंतरगत इंश्योरेंस होल्डर के शुरूआत की तारीख़ को बदला जा सकता है और इंश्योर  किए गए व्यक्ति को पॉलिसी के रिवाइवल के दौरान उसकी उम्र के अनुसार केवल एक ही देय प्रीमियम का भुगतान करना होता है। विशेष रिवाइवल स्कीम का लाभ उठाया जा सकता है अगर इन श्योर किया गया व्यक्ति  प्रीमियम का एक मुश्त भुगतान करने में सक्षम नहीं है।  विशेष रिवाइवल स्कीम के तहत इंशोयर्ड से मेडिकल रिपोर्ट और फ़ॉर्म नम्बर -680 के अंतर्गत अच्छे स्वास्थ्य का डिक्लेरेशन माँगा जा सकता है।  विशेष रिवाइवल स्कीम के तहत इंशोयर किए गए व्यक्ति को अअगर पॉलिसी को पुनः चालू करने की इच्छा है, तो उसे कुछ शर्तों को पूरा करना होगा ये शर्तें इस प्रकार हैं:

  • पॉलिसी की पूरी अवधि के दौरान विशेष रिवाइवल स्कीम का उपयोग केवल एक बार किया जा सकता है।
  • इंशोयर्ड व्यक्ति पॉलिसी के लैप्स होने के लिए तीन वर्षों के भीतर ही विशेष रिवाइवल कर सकता है।
  • पॉलिसी के अंतरगत कोई भी सरेंडर्ड वैल्यू की प्राप्ति नहीं की जानी चाहिए। इसके लिए पॉलिसी के आरंभ होने की तारीख़ से तीन वर्षों के भीतर ही विशेष पुनर्जीवन विकल्प को कार्यान्वित किया जा सकता है।

किश्त  रिवाइवल -अगर इंशोयर्ड व्यक्ति देय प्रीमियम को एक- मुश्त देकर पॉलिसी के विशेष रिवाइवल में असफल रहता है तब वह अपनी पॉलिसी को पुनः चालू करने के लिए के रिवाइवल  स्कीम का उपयोग कर सकता है। इस किश्त रिवाइवल स्कीम के तहत  निम्नलिखित प्रकार से राशि का भुगतान कर के पॉलिसी को रिवाइवल किया जा सकता है।

  • ईयरली प्रीमियम मोड में पॉलिसी होल्डर को सालाना प्रीमियम का आधा देने की ज़रूरत है
  • प्रीमियम भुगतान के हाफ़ ईयरली मोड में पॉलिसी होल्डर को सालाना प्रीमियम का आधा देने की ज़रूरत है।
  • कॉर्पोरेट प्रीमियम पेमेंट मोड में, इंशोयर्ड व्यक्ति द्वारा दो क्वार्टरली भुगतान किए जाने की आवश्यकता है।
  • प्रीमियम भुगतान के मंथली बोर्ड के अंतर्गत इंश्योरेंस होल्डर 6 मन्थ्ली प्रीमियम का भुगतान कर सकता है

पॉलिसी टेन्योर है के अनुसार बाक़ी बचा हुआ देय प्रीमियम इंशोयर्ड द्वारा   दो वर्षों के भीतर बराबर किश्तों में एक नियमित प्रीमियम के साथ दिया जाना है।

सर्वाइवल बेनिफिट कम रिवाइवल स्कीम -सर्वाइवल बेनिफिट स्कीम का उपयोग  मनी बैक पॉलिसियों को फिर से चालू करने में  किया जा सकता है। यदि, सर्वाइवल बेनिफिट की देय तिथि , नवीकरण की तारीख के से पहले आती है तो इंशोयर्ड व्यक्ति पॉलिसी को फिर से चालू करने के लिए सर्वाइवल बेनिफिट का लाभ उठा सकता है। पर यदि रिवाइवल करने की राशि सर्वाइवल बेनिफिट से ज़्यादा है तो पॉलिसीधारक को एक्सेस यानि अतिरिक्त राशि देनी होगी। इसी प्रकार से अगर रिवाइवल राशि सर्वाइवल बेनेफिट से कम है तो इंशोयर्ड व्यक्ति को बची  हुई बाक़ी राशि वापस कर दी जाती है

लोन कम रिवाइवल स्कीम -अगर रिवाइवल की तारीख़ पर पॉलिसी सरेंडर मूल्य प्राप्त करती है  तो ऐसे  केस में इंशोयर्ड  व्यक्ति पॉलिसी लोन लेकर पॉलिसी को पुनर्जीवित कर सकता है। अगर रिवाइवल राशि में कोई कमी या डेफ़िसिट है तो इंशोयर्ड व्यक्ति को अतिरिक्त राशि का भुगतान करना होगा। अगर लोन राशि ी रिवाइवल राशि से अधिक है तो इंशोयर्ड व्यक्ति को एक्स्ट्रा राशि का भुगतान किया जाएगा।

लैप्सड LIC इंश्योरेंस पॉलिसी का  रिवाइवल यानी रिवाइव  महत्वपूर्ण क्यों  है?

 मान लीजिए कि पॉलिसी धारक जो जीवन बीमा पॉलिसी का मालिक है, पॉलिसी की समाप्ति से ठीक पहले किसी भी गंभीर बीमारी से पीड़ित है। इस तरह के मामलों में, यदि इंशोयर्ड  व्यक्ति की पॉलिसी  को रिवाइवल  नहीं किया जाता है, तो उसे कोई भी इंश्योरेंस पॉलिसी को खरीदने के लिए काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा, वे पहले से मौजूद पॉलिसी का लाभ नहीं उठा पाएंगे क्योंकि पॉलिसी का बेनिफिट कम हो जाएगा।

आपकी जीवन बीमा पॉलिसी का रिवाइवल कवरेज के विस्तार करने का एक विकल्प प्रदान करता है, क्योंक लैप्स पॉलिसी के रिवाइव  यानी रिवाइवल का विकल्प हमेशा मूल पॉलिसी दस्तावेज़ में मौजूद रहने के कारण इंश्योरर आपकी जीवन बीमा पॉलिसी के रिवाइवल को अस्वीकार नहीं कर सकते हैं

क्योंकि LIC इंश्योरेंस पॉलिसी का पुनरुद्धार  एक लंबी प्रक्रिया नहीं है, इसलिए कोई भी व्यक्ति त्वरित, सरल और परेशानी मुक्त तरीके से ऑनलाइन पॉलिसी को आसानी से रिवाइवल कर सकता है।

Written By: PolicyBazaar - Updated: 05 July 2021
Search
Disclaimer: Policybazaar does not endorse, rate or recommend any particular insurer or insurance product offered by an insurer.
Newsletter
Sign up for newsletter
Sign up our newsletter and get email about Investment Plans.
You May Also Want to Know About
Best LIC Policies For Investment in 2021
Best LIC Policies for Investment in 2021 When it comes to purchasing a life insurance plan, LIC plans are the most popular choice of customers. LIC is one of the most trusted and leading insurance provider companies in India. The company has a st...
What is Investment and What is Its Purpose?
What is Investment and What is Its Purpose? Different people possess different notions and understanding of “investment”. To start with, first of all, let’s try to get a clear understanding of what is investment and how it can be useful for...
Post Office Monthly Income Scheme (POMIS)
Post Office Monthly Income Scheme (POMIS) Are you looking for an investment avenue which is safe and secure, earns substantial returns with a short locking period, which says no to equities and is absolutely risk free? Well then, think about inves...
SBI Life Insurance Plans in India
SBI Life Insurance Plans SBI Life Insurance, a joint venture between State Bank of India (SBI) and BNP Paribas Assurance, provides comprehensive life insurance cover at competitive prices. SBI Life Insurance provides Unit Linked Plans, Child Educ...
Short Term Investments Options
Short Term Investments Options Short-term investments can be described as temporary investments or marketable securities, which can be easily converted into cash, generally within 5 years. Short-term investments are highly liquid assets that are s...
Close
Download the Policybazaar app
to manage all your insurance needs.
INSTALL