Please wait. We Are Processing..

सुकन्या समृद्धि योजना

सुकन्या समृद्धि योजना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढाओ अभियान के अंतर्गत शुरू की गई एक बचत योजना है, जिसका लक्ष्य बालिकाओं के फाइनेंशियल भविष्य को सुरक्षित करने का है। अप्रैल 2020 से, सुकन्या समृद्धि योजना 7.6% की कंपाउंड इंटरेस्ट रेट प्रदान करती है।

सुकन्या समृद्धि योजना एक लॉन्ग टर्म बचत योजना है, जिसे किसी भी डेसिग्नेटेड पब्लिक और प्राईवेट बैंकों और पोस्ट ऑफिसीस में खोला जा सकता है। 21 वर्ष की अवधि या बालिका की शादी 18 वर्ष की ऊम्र के बाद होने तक, सुकन्या समृद्धि योजना द्वारा दिए गए प्रमुख बेनिफिट्स हैं:

  • यह सालाना 7.6% की हाई कम्पाउंड - इंटरेस्ट रेट प्रदान करती है।
  • अकाउंट को ट्रांसफ़र का बेनिफिट्स प्रदान करती है।
  • (एक्सेम्पट, एक्सेम्पट, एक्सेम्पट) फॉर्म के रूप में टैक्स बेनेफ़िट का बेनिफिट्स उठाया जा सकता है।

* इन्शुरर द्वारा सभी बचत आईआरडीएआई द्वारा अप्रूव्ड इंशोरेंस प्लान के अनुसार प्रदान की जाती है। स्टैंडर्ड टी एंड सी लागू

सुकन्या समृद्धि योजना क्या है?

सुकन्या समृद्धि योजना उन माता-पिता या गर्जियंस  के लिए है, जिन्हें बेटी के रूप में वरदान प्राप्त है  और फाइनेंशियल फ्यूचर के प्रसंग अपनी बेटी के भविष्य को बनाने के विकल्पों की   तलाश में  हैं। प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना माता-पिता को अपनी बालिकाओं के कल्याण के लिए योजना में निवेश करने का मौका  देती है। यदि आप इस योजना में निवेश करते हैं, तो यह सबसे अच्छे उन गिफ़्ट्स  में से एक हो सकता है, जिसे आप अपनी बच्ची के  जन्म लेने  पर  उसे  दे सकते हैं ताकि आप उसके लिए व्यवस्थित रूप से बचत की योजना बना सकें ।

सुकन्या समृद्धि योजना मूल रूप से नवजात बालिकाओं के लिए है ताकि यह सुनिशचित किया जा सके कि लड़कियाँ पीछे न रहें। योजना के अनुसार, यह एक बालिका को 18 वर्ष की ऊम्र के होने तक फाइनेंशियल सुरक्षा प्रदान करती है। वे माता-पिता सुकन्या समृद्धि योजना के बेनिफिट्स  उठाने के योग्य हैं, जिनकी बालिका की ऊम्र 10 वर्ष से कम है ।यह योजना 21 वर्षों में मच्यौर होती है।

 बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के अंतर्गत इस योजना का शुभारम्भ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किया गया

आपको यह भी पसंद आ सकता है: पोस्ट ऑफ़िस इंटरेस्ट रेट

पढ़ो योजना और इसका लक्ष्य बालिकाओं के कल्याण के लिए है। सुकन्या समृद्धि योजना के अनुसार अप्रैल -जून 2020 क्वार्टर के अनुसार इंटरेस्ट रेट 7.6% है और अब इस योजना के लिए पहले सेट की गई 1000 रु की न्यूनतम वार्षिक राशि को रिवाइज़ करके 250 रु  कर दिया गया है ।

सुकन्या समृद्धि योजना की विशेषताएं

सुकन्या समृद्धि योजना की कुछ मुख्य विशेषताएं नीचे दी गई हैं:

  • बालिका के माता-पिता या गार्जियन उसका अकाउंट तभी तक ऑपरेट कर सकते हैं जब तक बालिका 10 वर्ष की उम्र की नहीं हो जाती।
  • बालिका की उम्र 18 वर्ष होने पर उसे अपना अकाउंट खुद ही ऑपरेट करना होगा। सुकन्या समृद्धि योजना में एक फाइनेंशियल ईयर में व्यक्ति 250 रुपए की न्यूनतम राशि और5 लाख रुपए की अधिकतम राशि को जमा कर सकता है । जमा कराए जाने वाली राशि को 100 के मल्टीपल्स में दिया जा सकता है।
  • सुकन्या समृद्धि योजना में राशि जमा कराने की अवधि 15 वर्ष है और इस योजना का की मैच्योरिटी अवधि 21 वर्ष है।
  • सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट को बैंक से पोस्ट ऑफिस और वाईस वर्सा भारत में कहीं पर भी ट्रांसफर किया जा सकता है। अकाउंट के ट्रांसफर के लिए कोई शुल्क लागू नहीं है।
  • अकाउंट को बैंक से पोस्ट ऑफिस और वाईस वर्सा ट्रांसफर करने के लिए घर बदलने का प्रूफ सबमिट करना आवश्यक है। अगर व्यक्ति प्रूफ सबमिट करने में विफल रहता है तो उसे ₹100 का फाइन देना होगा।
  • अकाउंट के प्रति जमा की गई राशि डिमांड ड्राफ्ट ऑनलाइन ट्रांसफर चैक या कैश के रुप में हो सकती है।

सुकन्या समृद्धि योजना के लिए मौजूदा योग्यता

 सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट को खोलने पर आइए, डालते हैं एक नजर

  • बालिका के नाम पर केवल उसके माता-पिता या लीगल गार्जियन ही सुकन्या समृद्धि अकाउंट खोल सकते हैं।
  • अकाउंट खोलने के समय बालिका की उम्र 10 वर्ष से कम होनी चाहिए।
  • योजना की मैच्योरिटी अवधि तब तक की है जब तक बालिका 21 वर्ष की उम्र तक नहीं पहुंच जाती।
  • एक फाइनेंशियल ईयर में व्यक्ति न्यूनतम 250 रुपये की जमा से लेकर अधिकतम5 लाख रुपये तक  एस एस वाई में जमा  कर सकता है।
  • सिंगल बालिका के नाम पर केवल एक ही अकाउंट खोला जा सकता है।
  • प्रति परिवार केवल दो सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट की अनुमति है यानी हर बालिका के लिए एक।
  • इन्वेस्टर्स कंपनी के फिक्स्ड डिपॉजिट द्वारा दी जाने वाली हाई इंटरेस्ट रेट का बेनिफिट्स  उठा सकते हैं।

सुकन्या समृद्धि योजना इंटरेस्ट रेट 2021     

 के प्रति किया गया इन्वेस्टमेंट का उपयोग बालिका के भविष्य को आर्थिक रूप से मजबूत बनाने के लिए किया जा  सकता है। इस सुकन्या समृद्धि योजना के इंटरेस्ट रेट का क्वार्टरली बैसिस पर किया जाता है और इसे निवेश के अन्य विकल्पों में से उच्चतम/सबसे ऊँचा माना जाता है। फाइनेंशियल ईयर 2020 2021 के लिए सुकन्या समृद्ध योजना की मौजूदा इंटरेस्ट रेट 7.6% है जिसे सालाना कंपाउंड किया जाता है। आइए एस एस वाई की इंटरेस्ट दरों पर वर्ष के अनुसार नजर डालें।

समय सीमा    इंटरेस्ट रेट
अप्रैल- जून 2020 (वित्त वर्ष 2020-21)  7.6%
जनवरी-मार्च 2020 (FY 2020-21)      8.4%
जुलाई-सितंबर 2019 (FY 2019-20)   8.4%
अप्रैल-जून 2019 (FY 2019-20)    8.5%
जनवरी-मार्च 2019 (FY 2018-19) 8.5%
अक्टूबर-दिसंबर 2018 (FY 2018-19)   8.5%
जुलाई-सितंबर 2018 (FY 2018-19)  8.1%
अप्रैल-जून 2018 (FY 2018-19)  8.1%
जनवरी-मार्च 2018 (FY 2017-18)    8.1%
अक्टूबर-दिसंबर 2017 (FY 2017-18)  8.3%
जुलाई- सितंबर 2017 (FY 2017-18)      8.3%
अप्रैल-जून 2017 (FY 2017-18)        8.4%

सुकन्या समृद्धि अकाउंट के बारे में सबसे बढ़िया बात यह है कि यह अन्य सभी सेविंग्स स्कीम्स की तुलना में अधिक इंटरेस्ट रेट प्रदान करता है। इसलिए, बालिका के लिए इस बाल शिक्षा योजना के साथ, व्यक्ति निश्चित रूप से अपनी बालिका के भविष्य को सुनिश्चित कर सकता है और भविष्य में उसकी फाइनेंशियल आवश्यकताओं को पूरा कर सकता है।

* इंश्योरेंस कराने वाले व्यक्ति द्वारा सभी सेविंग आईआरडीएआई से अप्रूव्ड इंश्योरेंस प्लान के अनुसार प्रदान की जाती है। स्टैंडर्ड टी एंड सी लागू

सुकन्या समृद्धि योजना खाते के बेनिफिट्स

बालिकाओं को फाइनेंशियल सुरक्षा प्रदान करने के साथ-साथ, सुकन्या समृद्धि योजना के अनेक बेनिफिट्स हैं। आइए इन लाभों को विस्तार से देखें।

  • EEE टैक्स बेनिफिट्स को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है

    सुकन्या समृद्धि योजना (एक्सेम्पट, एक्सेम्पट, एक्सेम्पट  )के अंतर्गत कर बेनिफिट्स  प्रदान करता है| इस का मतलब है कि:

    • इस योजना में5 लाख रु की अधिकतम सीमा तक किए गए योगदान यानि कंट्रीब्यूशन पर टैक्स एक्सेम्पट  U / S 80C की छूट प्राप्त है।
    • योजना के लिए दिए गए योगदान पर अर्जित इंटरेस्ट टैक्स -मुक्त है
    • टैक्स एक्सेम्पट की धारा 10 (10D) के तहत मैच्योरिटी पर प्राप्त राशि कर मुक्त यानि टैक्स फ्री है।
  • अकाउंट खोलने की सरल और आसान प्रक्रिया

    न्यूनतम 250 रु के साथ सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट आसानी से खोला जा सकता है और एक फाइनेंशियल ईयर में अधिकतम 1.5 लाख तक इसमें निवेश किया जा सकता है। 250 की न्यूनतम योगदान सीमा से किसी के भी द्वारा अकाउंट को सरल और परेशानी मुक्त तरीके, से खोला जा सकता है।

  • बालिकाओं के लिए एक फाइनेंशियल बैकअप बनाने में मदद करती ह 

    प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना शुरुआत से ही बालिका के लिए फाइनेंशियल बैकअप बनाने में व्यक्ति मदद करती है। इसके अलावा, इसे बालिका की उच्च शिक्षा को फण्ड करने के लिए एक लाभ कारी तरीका भी माना जाता है। सुकन्या समृद्धि योजना योजना के तहत, बालिका की उम्र 18 वर्ष होने के बाद, उसके पढ़ाई लिखाई के खर्चों को पूरा करने के लिए खाते से शेष राशि का 50% निकाला जा सकता है।

  • विशेष परिस्थितियों में राशि को समय से पहले निकाला जा सकता है

    अगर बालिका की उम्र 18वर्ष तक हो गई है तो समय से पूर्व राशि को निकाला जा सकता है। इसके अलावा मेडिकल इमरजेंसी या अभिभावक की दुखद मृत्यु पर योजना के शुरू होने की तारीख से लेकर पांच वर्ष पूरा करने के बाद, भी राशि की विड्रॉल की अनुमति है।

    हालांकि, समय से पहले विड्रॉल के लिए आवेदन पत्र जमा करना अनिवार्य है।

  • आकर्षक इंटरेस्ट रेट

    किसी भी अन्य निवेश योजना की तुलना में, सुकन्या समृद्धि योजना सालाना 7.6% की आकर्षक इंटरेस्ट दर प्रदान करती है, कंपाउंडेड एनुअली। सुकन्या समृद्धि योजना इंटरेस्ट रेट सरकार द्वारा तय की जाती है और बैसिस पर रिवाइज की जाती है।

सुकन्या समृद्धि योजना पोस्ट ऑफिस के साथ कैसे खोलें

यहां हमने पोस्ट ऑफिस के साथ सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट खोलने के लिए पूरी प्रक्रिया का उल्लेख किया है, जो ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों है।

 सुकन्या समृद्धि योजना पोस्ट ऑफिस के साथ कैसे खोलें   फाइनेंशियल संस्था के साथ सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट खोलने के लिए (ऑफलाइन)  फाइनेंशियल संस्थान के साथ सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट खोलने के लिए (ऑनलाइन) 
1. निकटतम पोस्ट ऑफिस में जाएं और सुकन्या समृद्धि अकाउंट खोलने के लिए आवेदन भरें। 1. निकटतम बैंक में जाएं और असाइन किए गए अधिकारी से सुकन्या समृद्धि योजना के लिए फॉर्म भरने में मदद करने के लिए कहें।  1. जिस बैंक के साथ आप अकाउंट खोलना चाहते हैं उसकी  आधिकारिक वेबसाइट देखें और सुकन्या समृद्धि के लिए लिंक खोजें।
2. एप्लीकेशन फॉर्म में बालिका और उसके लीगल र्गार्जियंस / माता-पिता के विवरण के साथ आवश्यक जानकारी भरें। 2.  एप्लीकेशन फॉर्म में बालिका और उसके लीगल र्गार्जियंस / माता-पिता के विवरण के साथ आवश्यक जानकारी भरें। 2.  आवेदन पत्र में आवश्यक जानकारी भरें जिसमें बालिका और उसके लीगल र्गार्जियंस / माता-पिता का विवरण हो। 
3. पैन कार्ड, ऐड्रेस प्रूफ और रिलेशनशिप सर्टिफिकेट जैसे दस्तावेजों की एक कॉपी अटैच करें।   3.आवश्यक दस्तावेज जैसे कि बच्ची का बर्थ सेर्टिफिकेट, एड्रेस प्रूफ, पैन कार्ड अटैच करें , जिन्हें इन बैंकों के आधिकारिक एजेंटों द्वारा वेरीफाई किया जाएगा। 3. एड्रेस प्रूफ, आधार नंबर, पैन कार्ड और रिलेशनशिप सर्टिफिकेट के साथ बालिका के बर्थ सेर्टिफिकेट की स्कैन कॉपी अटैच करें।
4. सभी फॉर्म और दस्तावेजों के वेरिफिकेशन के बाद सुकन्या समृद्धि अकाउंट को खोल दिया जाएगा और लीगल माता पिता/ गार्जियंस को एक पासबुक भी दिया जाएगा 4. अधिकारियों द्वारा सभी आवश्यक फॉर्म और दस्तावेजों के वेरीफिकेशन  के बाद, सुकन्या समृद्धि अकाउंट खोल दिया जाएगा और पासबुक लीगल र्गार्जियंस / माता-पिता को दी जाएगी। 4. फॉर्म पूरा होने के बाद सबमिट बटन पर क्लिक करें

सुकन्या समृद्धि योजना पोस्ट ऑफिस स्कीम, तनाव को घटाने वाली एक योजना है जो छोटी बचत योजना के रूप में, उन माता-पिता के लिए अच्छी निवेश योजना है जो बाद में फाइनेंशियल जरूरतों का भार नहीं चाहते हैं।

सुकन्या समृद्धि अकाउंट खोलने के लिए आवश्यक दस्तावेज

सुकन्या समृद्धि अकाउंट खोलते समय जिन दस्तावेजों की जरूरत है, वे हैं:

  • सुकन्या समृद्धि योजना खोलने का फॉर्म
  • अकाउंट खोलते समय बालिका के मेडिकल सर्टिफिकेट प्रस्तुत करना आवश्यक है
  • जमाकर्ता की आईडेंटिटी प्रूफ और ऐड्रेस प्रूफ
  • पोस्ट ऑफिस और बैंक द्वारा अनुरोध किया गया कोई अन्य दस्तावेज।
  • जुड़वां या तीन बच्चे अगर वन आर्डर ऑफ़ बर्थ में हुए हैं तो उस मामले में एक मेडिकल सर्टिफिकेट जमा कराना होगा

सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट विवरण

  • सुकन्या समृद्धि खाते का समय से पहले बंद होना

    इन मामलों में आप केंद्रीय सरकार से अधिकृत आदेश के बाद अकाउंट बंद कर सकते    हैं:

    • यदि अकाउंट होल्डर की मृत्यु हो जाती है, तो वह राशि निकाल सकता है।
    • अगर कोई जानलेवा बीमारी या मेडिकल इमरजेंसी का मामला हो
  • एलिजिबिलिटी यानी पात्रता

    आपकी बेटी के नाम से यदि आप सुकन्या समृद्धि अकाउंट खोलना चाहे तो ऐसा आपको उसके 10 वर्ष की उम्र के होने से पहले करना होगा। खाना की विशेष मामलों में इसे 1 वर्ष की छूट प्रदान की गई है । 

  • सुकन्या समृद्धि योजना इंटरेस्ट रेट

    सुकन्या समृद्धि योजना के अनुसार, एक फाइनेंशियल ईयर के लिए इंटरेस्ट रेट 7.6% है। ऐसे इंटरेस्ट के साथ, एक व्यक्ति को ऐसे प्लान में निवेश करना चाहिए जो उन्हें मेजॉरिटी पर अच्छे रिटर्न दे

  • पर रिटर्न

    इस योजना में निवेश करने से आपको एक अच्छा रिटर्न मिल सकता है। उदाहरण के तौर पर यदि 1000 प्रति वर्ष, निवेश करते हैं तो आपको योजना की मैच्योरिटी यानी 21 वर्षों के बाद 46,821 रुपए मिलेंगे तो आप जितना अधिक निवेश करेंगे आप इस योजना से उतना ही ज्यादा रिटर्न पा सकेंगे और यह आपकी बच्ची के भविष्य की आवश्यकताओं को सुरक्षित रखने में मदद करेगा।

  • सुकन्या समृद्धि योजना के लिए जमा यानि डपॉज़िट की अवधि

    सुकन्या समृद्धि योजना के अनुसार, एक व्यक्ति अधिकतम 15 वर्षों के लिए डिपॉजिट कर सकता है और अकाउंट खोलने की तारीख से 21 वर्षों तक अकाउंट मौजूद रहता है।

  • सुकन्या समृद्धि योजना के टैक्स बेनिफिट्स

    सुकन्या समृद्धि के अकाउंट के साथ, अकाउंट होल्डर को 3 गुना टैक्स बेनिफिट्स प्राप्त होता है जिसका अर्थ है कि निकाली गई राशि, निवेश की गई राशि और इंटरेस्ट के रूप में कमाई गई राशि पर कोई टैक्स नहीं लगाया जाता है।

  • सुकन्या समृद्धि अकाउंट से विड्रॉल

    पिछले फाइनेंशियल ईयर की समाप्ति पर माता-पिता या लीगल गार्जियन अधिकतम 50% की आंशिक विड्रॉल कर सकते हैं। विड्रॉल तभी की जा सकती है जब अकाउंट होल्डर ने 18 वर्ष की उम्र प्राप्त कर ली हो और जब ऐसा उच्च शिक्षा या विवाह के खर्च जैसे मामलों के लिए हो।

  • सुकन्या समृद्धि अकाउंट खोलने के लिए प्रारंभिक जमा यानी प्राइमरी डपॉज़िट

    सुकन्या समृद्धि अकाउंट के अनुसार अकाउंट खोलते समय लीगल गार्जियन को ₹1000 का भुगतान करना होगा। 

  • जुर्माना एवं लेट फीस

    यदि एक फाइनेंशियल ईयर में लीगल गार्जियन 1000 रुपये की न्यूनतम राशि का भुगतान करने में असफल रहता है। तो अकाउंट को बंद कर दिया जाएगा। हर उस प्रत्येक वर्ष जिसमें पेमेंट नहीं दिया गया है, ₹50 प्रति वर्ष के हिसाब से जुर्माना और उस फाइनेंशियल ईयर के डिपॉजिट के लिए न्यूनतम राशि का भुगतान करके इसी अकाउंट को चलाया जा सकता है। 

    यहां सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट के बारे में कुछ अन्य आवश्यक जानकारियां हैं जिन्हें आप को जानना आवश्यक है। यह सभी जानकारियां सुकन्या समृद्धि अकाउंट से डील करने में आपकी सहायता करेंगी।

सुकन्या समृद्धि योजना आवेदन को ऑनलाइन डाउनलोड कैसे करें?

सुकन्या समृद्धि योजना का आवेदन फॉर्म विभिन्न स्रोतों से डाउनलोड किया जा सकता है, जैसे:

  • भारतीय डाक की वेबसाइट से।
  • भारतीय रिजर्व बैंक की वेबसाइट से।
  • पीएनबी, एसबीआई, बीओबी, आदि पब्लिक सेक्टर बैंकों की निजी वेबसाइट से
  • भाग लेने वाले प्राइवेट सेक्टर के बैंकों जैसे एचडीएफसी, एक्सिस, आईसीआईसीआई, आदि की वेबसाइट से

हालांकि सुकन्या समृद्धि योजना आवेदन फॉर्म को ऑनलाइन डाउनलोड करने के लिए अनेक स्रोत हैं, फॉर्म का फॉर्मेट सब जगह है एक जैसा ही होगा

लोकप्रिय सरकारी योजनाओं से तुलना

  • सुकन्या समृद्धि अकाउंट के आवेदन फॉर्म को कैसे भरें?

    सुकन्या समृद्धि योजना आवेदन फॉर्म में अकाउंट होल्डर को उस बच्ची के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने की आवश्यकता है, जिसके नाम पर योजना के लिए कंट्रीब्यूशन दिया जा रहा है। लीगल गार्जियन या माता-पिता का विवरण भी आवश्यक है जो उनकी ओर से कंट्रीब्यूशन / डिपोजिशन यानी जमा देंगे। आवेदन पत्र को भरने के लिए आवश्यक मुख्य जानकारी निम्नलिखित हैं।

    • बालिका का नाम (प्राथमिक अकाउंट होल्डर।
    • अकाउंट (ज्वाइंट होल्डर) खोलने वाले लीगल गार्जियन/ माता पिता का नाम
    • बालिका के जन्म की तारीख।
    • प्रारंभिक जमा राशि।
    • डीडी / चेक नंबर और तारीख (प्राथमिक जमा का उपयोग)
    • अभिभावक / माता-पिता (आधार, ड्राइविंग लाइसेंस, आदि) की पहचान प्रमाण।
    • प्राथमिक अकाउंट धारक बर्थ सेर्टिफिकेट विवरण (जारी करने की तारीख, प्रमाण पत्रसंख्या, आदि)।
    • कोई भी अन्य KYC दस्तावेज विस्तार (वोटर आईडी, पैन, आदि)।
    • स्थायी पता प्रमाण और वर्तमान पता।

    एक बार जब आवेदक इन सभी विवरणों को आवेदन पत्र में भर देता है, तो फॉर्म को अकाउंट खोलने के प्राधिकारी द्वारा हस्ताक्षरित किया जाना चाहिए और लागू दस्तावेजों की प्रतियों के साथ पोस्ट ऑफिस / बैंकों को जमा करना होगा।

  • यदि सुकन्या समृद्धि योजना के लिए अधिक या कम राशि का भुगतान किया जाता है तो क्या होगा?

    • अधिक राशि - रु। 1,50,000 से अधिक किसी भी जमा के लिए कोई इंटरेस्ट लागू नहीं है। अकाउंटधारक किसी भी समय अधिक राशि निकाल सकता है।
    • कम राशि- यदि निवेशक फाइनेंशियल ईयर में न्यूनतम रु .50 की राशि का भुगतान करने में विफल रहता है, तो खाते को डिफ़ॉल्ट माना जाएगा। हालांकि, कोई 50 रुपये का जुर्माना देकर अकाउंट सक्रिय कर सकता है।

सुकन्या समृद्धि योजना विड्रॉल नियम

यहाँ के वापसी नियम दिए गए हैं।

  • अकाउंटधारक योजना की अवधि पूरी होने के बाद खाते से इंटरेस्ट सहित पूरी संचित राशि निकाल सकता है। हालाँकि, ये ऐसे दस्तावेज हैं जिन्हें जमा करने की आवश्यकता है।
  • आईडी प्रूफ
  • राशि की वापसी के लिए आवेदन पत्र।
  • एड्रेस प्रूफ
  • नागरिकता दस्तावेज।
  • यदि बालिका 18 वर्ष की आयु तक पहुँच गई है और 10 वीं पूरी कर चुकी है तो वह उच्च शिक्षा के लिए एक वापसी कर सकते हैं। हालांकि, निकाली गई राशि का उपयोग फीस के भुगतान या प्रवेश के समय लगाए गए किसी अन्य शुल्क के लिए किया जाना चाहिए।
  • प्रधान मंत्री सुकन्या समृद्धि योजना से प्रूफ विड्रॉल के लिए आवेदन करते समय, कॉलेज या विश्वविद्यालय में प्रवेश और शुल्क रसीद जैसे दस्तावेजों को रखना महत्वपूर्ण है।
  • खाते से निकाली जा सकने वाली अधिकतम राशि पिछले वर्ष में उपलब्ध राशि का 50% है।
  • अकाउंट होल्डर सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट से एकमुश्त या 5 किश्तों में राशि निकाल सकते हैं।

सुकन्या समृद्धि योजना के प्रीमेच्योर विड्रॉल नियम

आइए नियमों पर एक नज़र डालते हैं, जो अकाउंट के प्रीमेच्योर विड्रॉल को अनुमति देते हैं।

  • यदि बालिका के 18 वर्ष की उम्र की हो गई है और उसका विवाह होने जा रहा है तब सुकन्या समृद्धि योजना से प्रीमेच्योर विड्रॉल की अनुमति है। हालांकि, बेनिफिट्स प्राप्त करने के लिए विवाह के कम से कम 1 महीने पहले और तीन महीने बाद आवेदन जमा करना अनिवार्य है।
  • जमा किए गए आवेदन के साथ, अकाउंट होल्डर को उन दस्तावेजों को जमा करना भी आवश्यक है जो बालिका की उम्र निर्धारित करते हैं।
  • यदि बालिका नॉनरेसिडेंट यानि अनिवासी या गैर-नागरिक हो जाती है तो ऐसी स्थिति में अकाउंट बंद माना जाएगा। इस मामले में, गार्जियन या बालिका को अपना स्टेटस बदलने की तारीख से एक महीने पहले इस बदलाव के बारे में सूचित करना होगा।
  • योजना की अवधि के दौरान बालिका के मृत्यु के मामले में, अकाउंट में उपलब्ध शेष राशि गार्जियन द्वारा वापस ली जा सकती है। फिर भी, गार्जियन को बालिका का मृत्यु प्रमाण पत्र देना होगा।
  • व्यक्ति सुकन्या समृद्धि अकाउंट से और अन्य कारणों से भी समय से पूर्व विड्रॉल कर सकता है। हालाँकि, कंट्रीब्यूशन से अर्जित किया गया इंटरेस्ट, डाकघरों द्वारा दी जाने वाली इंटरेस्ट दरों के समान ही रहेगा

यहाँ पर सुकन्या समृद्धि योजना प्रदान करने वाले बैंकों की सूची दी गई है:

यहां उन बैंकों की सूची दी गई है जो सुकन्या समृद्धि योजना प्रदान करते हैं

 यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया यूनियन बैंक ऑफ इंडिया  इंडियन बैंक
 भारतीय स्टेट बैंक विजया बैंक केनरा बैंक
 पंजाब नेशनल बैंक  पंजाब एंड सिंध बैंक कॉर्पोरेशन बैंक
यूको बैंक  सिंडिकेट बैंक  एक्सिस बैंक
ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स  आईडीबीआई बैंक  बैंक ऑफ इंडिया
 आईसीआईसीआई बैंक  इंडियन ओवरसीज बैंक  इलाहाबाद बैंक
 बैंक ऑफ महाराष्ट्र  देना बैंक  बैंक ऑफ बड़ौदा
 सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया  आंध्र बैंक

पासबुक में क्या दर्ज है?

सुकन्या समृद्धि अकाउंट खोलने के बाद, जमाकर्ता यानी डिपॉजिट कराने वाले व्यक्ति को एक पासबुक दी जाती है, जिसमें अकाउंट खोलने की तारीख, बालिका के जन्म की तारीख, जमा की गई राशि और नाम, और अकाउंट होल्डर का पता जैसी जानकारी शामिल होती है।

अकाउंट होल्डर को यह पासबुक अकाउंट में पैसे जमा करने के समय या इंटरेस्ट प्राप्त करने के समय  बैंकों या पोस्ट ऑफिस को दिखानी होगा। इसके अलावा,  अकाउंट से आखरी  विड्रॉल और मैच्योरिटी के समय बैंक और पोस्ट ऑफिस पासबुक की पुष्टि करते हैं।

सुकन्या समृद्धि योजना कैलक्यूलेटर

सुकन्या समृद्धि योजना कैलक्यूलेटर एक टूल है, जो योजना अवधि के अंत में  मैच्योरिटी राशि की गणना करने में सब्सक्राइबर्स की सहायता  करता है।  इस कैलकुलेटर का उपयोग सब्सक्राइबर्स यह अनुमान लगाने के लिए कर सकते हैं कि योजना की अवधि  के अंत में उन्हें मैच्योरिटी  बेनिफिट्स  के रूप में कितना राशि  प्राप्त होगी ।

सुकन्या समृद्धि योजना की मैच्योरिटी राशि की गणना कैसे करें?

सरकार द्वारा हर तीन महीने में में सुकन्या समृद्धि योजना की इंटरेस्ट दरें तय की जाती हैं। सुकन्या समृद्धि योजना कैलक्यूलेटर की सहायता से व्यक्ति मैच्योरिटी राशि का अनुमान लगा सकते हैं 

सुकन्या समृद्धि योजना कैलक्यूलेटर का उपयोग करने के लिए, व्यक्ति को सभी आवश्यक जानकारी जैसे कि बालिका की आयु, कंट्रीब्यूशन की न्यूनतम  राशि, आदि दर्ज करनी चाहिए। एक बार जब अकाउंट होल्डर   सभी विवरणों को दर्ज कर देता है, तब कैलक्यूलेटर  योजना की मैच्योरिटी पर बालिका को मिलने वाली राशि का अनुमान लगा लेता है।

हालांकि, प्रधान मंत्री सुकन्या योजना में कंट्रीब्यूट करते समय, यह ध्यान रखना आवश्यक है कि आवेदक ऊपर लिखे गए पात्रता मानदंडों को पूरा करे

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

Written By: PolicyBazaar - Updated: 06 April 2021
Search
Disclaimer: Policybazaar does not endorse, rate or recommend any particular insurer or insurance product offered by an insurer.
Newsletter
Sign up for newsletter
Sign up our newsletter and get email about Child Plans.
You May Also Want to Know About
5 Benefits of Sukanya Samriddhi Yojana for Girl Child by the Govt of India
5 Benefits of Sukanya Samriddhi Yojana for Girl Child by the Govt of India Sukanya Samriddhi Yojana is a savings scheme for the girl child launched as a part of the Government’s 'Beti Bachao Beti Padhao' campaign, in 2015. A Sukanya Samriddhi ...
Best Child Investment Plans to Invest in 2021
Best Child Investment Plans to Invest in 2021 Planning for the child’s secured future is not an easy task. Most of the people try to create a strong financial cushion for their child but find their funds insufficient at the time of need. While p...
Best Child Insurance Plans in India
Best Child Insurance Plans A child insurance plan is a combination of savings and insurance, which help the individuals to plan for the financial future of the child. With a child insurance plan, the parent can be assured that all the requiremen...
Top Child Insurance Plans to Invest
Child Insurance Plans As a parent, your biggest fear in regards to your child might be the constant thought of providing your child with the best of everything possible so that your child need not compromise on the needs and successfully fulfill...
Best Child Plans to Invest
Best Child Plans  Upbringing a child and providing them with the best of everything is a great responsibility for every parent. For every individual, their children are the main priority of life and in order to facilitate your child with a qual...
Close
Download the Policybazaar app
to manage all your insurance needs.
INSTALL