कार इन्शुरन्स

कार बीमा एक मोटर बीमा योजना है जो गाड़ी को किसी भी जोखिम से बचाती है जिसके कारण आपको वित्तीय नुकसान हो सकते हैं।यह मोटर बीमा कंपनी और गाड़ी के मालिक के बीच एक जोखिम बांटने की संविदा होती है जिसमें बीमा कंपनी गाड़ी के मरम्मत और बदलाव के बदले में प्रीमियम लेती है। एक कार बीमा पॉलिसी दुर्घटना, थर्ड पार्टी लायबिलिटी, चोरी, मानव कृत आपदा और प्राकृतिक आपदा आदि से होने वाले जोखिमों और नुकसान से कवरेज देती है।

Explore in Other Languages

आपको कार बीमा योजना क्यों खरीदनी चाहिए ?

मोटर वाहन अधिनियम 1988 के अनुसार भारत में चौपरिया बीमा पॉलिसी खरीदना सभी कारों के लिए अनिवार्य है।वाहन बीमा कंपनियां चौपहिया वाहन द्वारा किए गए थर्ड पार्टी के नुकसान और चौपहिया वाहन को हुए नुकसान की भरपाई करती है। कुछ ऐसे कारण जिसकी वजह से आपको भारत में नयी कार बीमा पॉलिसी लेनी चाहिए:

  • यहभिड़ंत, दुर्घटना, मृत्यु या प्राकृतिक आपदाओं से होने वाले नुकसान की भरपाई करती है जिससे कार इंश्योरेंस ना होने पर बीमा धारक को खुद भरना पड़ता।
  • यहदुर्घटना के कारण हुए अस्पताल भर्ती के खर्चे का भी ध्यान रखती है।
  • यहथर्ड पार्टी लायबिलिटी से होने वाले वित्तीय और कानूनी नुकसान को कम करती है।
  • रोडसाइडअसिस्टेंट, जीरो डिप्रेशिएशन जैसे राइडर बेनिफिट से खर्चे और कम हो जाते हैं।

इसके साथ ही आपकी पॉलिसी का प्रीमियमआपकी वाहन की इंश्योर्ड डिक्लेयर्ड वैल्यू या आईडीवी पर आधारित होती है।अगर आप आईडीवी बढ़ाएंगे तो प्रीमियम बढ़ेगा और अगर आप उसे घटाएंगे तो प्रीमियम घटेगा।

चौपहिया बीमा पॉलिसी खरीदने से पहले या रिन्यू कराने से पहले पॉलिसी धारक को कार बीमा प्लान की तुलना कर लेनी चाहिए।कार बीमा की तुलना पॉलिसी बाजार पर ऑनलाइन की जा सकती है और आप अपनी जरूरत के अनुसार आसानी से प्लान खरीद सकते हैं। यह आपकी निम्नलिखित में मदद कर सकता है:

  • सबसेबढ़िया मोटर बीमा कंपनियों से सर्वश्रेष्ठ कार बीमा पॉलिसी लेने में
  • आसानऑनलाइन कार बीमा रिन्यूअल प्रक्रिया
  • चौपहियावाहन के लिए कंप्रिहेंसिव कवरेज
  • बढ़ियासुरक्षा के लिए बहुत सारे ऐडऑन कवर

इसके साथ ही आपकी पॉलिसी का प्रीमियमआपकी वाहन की इंश्योर्ड डिक्लेयर्ड वैल्यू या आईडीवी पर आधारित होती है।अगर आप आईडीवी बढ़ाएंगे तो प्रीमियम बढ़ेगा और अगर आप उसे घटाएंगे तो प्रीमियम घटेगा।

चौपहिया बीमा पॉलिसी खरीदने से पहले या रिन्यू कराने से पहले पॉलिसी धारक को कार बीमा प्लान की तुलना कर लेनी चाहिए।कार बीमा की तुलना पॉलिसी बाजार पर ऑनलाइन की जा सकती है और आप अपनी जरूरत के अनुसार आसानी से प्लान खरीद सकते हैं। यह आपकी निम्नलिखित में मदद कर सकता है:

  • सबसेबढ़िया मोटर बीमा कंपनियों से सर्वश्रेष्ठ कार बीमा पॉलिसी लेने में
  • आसानऑनलाइन कार बीमा रिन्यूअल प्रक्रिया
  • चौपहियावाहन के लिए कंप्रिहेंसिव कवरेज
  • बढ़ियासुरक्षा के लिए बहुत सारे ऐडऑन कवर

भारत में कार बीमा योजना के प्रकार

भारत में कार बीमा पॉलिसी के तीन प्रकार हैं-

1. व्यापक कार बीमा

कंप्रिहेंसिव कार बीमा पॉलिसी थर्ड पार्टी लायबिलिटी का कवरेज देती है और आपकी गाड़ी को हुए नुकसान का भी कवरेज देती है।थर्ड पार्टी लायबिलिटी बीमा की तुलना में कंप्रिहेंसिव चौपहिया बीमा पॉलिसी ज्यादा कवरेज ज्यादा लाभ और दुर्घटना भिड़ंत या चोरी होने पर बीमत गाड़ी को कवर करती है।

एक कंप्रिहेंसिव पॉलिसी बहुत से ऐडऑन लेकर जैसे इंजन प्रोटेक्टर जीरो डिप्रेशिएशन कवर मेडिकल खर्च आदि से विस्तार की जा सकती है। यह एक बहुचर्चित पॉलिसी है क्योंकि यह विस्तृत कवरेज देती है जिससे पॉलिसी धारक निश्चिंत रहता है।

2. तृतीय पक्ष गाड़ी बीमा

तृतीय पक्ष गाड़ी बीमा आपको अपनी गाड़ी से हुए किसी भी दुर्घटना के कारण होने वाली कानूनी लायबिलिटी से बचाता है। यह बीमा आपको थर्ड पार्टी को हुए किसी भी नुकसान जैसे मृत्यु, अपंगता, चोट या अन्य कोई नुकसान से बचाता है।

तीसरे पक्ष की देयता कार बीमा कीमतें मोटर वाहन अधिनियम 1988 के तहत भारत में जनादेश हैं।

इंजन कैपेसिटी

थर्ड पार्टी लायबिलिटी कार बीमा का शुल्क 16 जून 2019 से रुपयों में

1000 सीसी से कम

2,072

1000 सीसी से ज्यादा और 1500 सीसी से कम

3,221

1500 सीसी से ज्यादा

7,890

3. पी एस यू ड्राइव बीमा

यूसेज बेस्ट वाहन बीमा के नाम से जाने जाने वाली यह बीमा पॉलिसी बीमा धारक को कितने किलोमीटर गाड़ी चली है उसके हिसाब से प्रीमियम देने का प्रावधान देती है।यह उनके लिए बहुत लाभदायक है जिनके पास बहुत सी गाड़ीयाँ है और सारी गाड़ियां ज्यादा नहीं चलती हैं।आईआरडीए के निर्देशों के अनुसार सैंडबॉक्स प्रोजेक्ट में भारतीय अक्सा,बजाज आलियांज जैसी कुछ बीमा कंपनियों ने पीएसयू ड्राइव बीमा पॉलिसी देना प्रारंभ कर दिया है।यह कंपनियां खुद के नुकसान और थर्ड पार्टी लायबिलिटी पर 1 साल के लिए विस्तृत कवरेज देती हैं।इसमें बीमा धारक को एक पॉलिसी अवधि में चलाए जाने वाले दूरी की घोषणा करनी होगी और उसके हिसाब से पे एस यू ड्राइव पॉलिसी का प्रीमियम तय किया जाएगा।हालांकि बीमा कंपनियों ने इसके तीन विकल्प बनाए हैं 2500 किलोमीटर 500 किलोमीटर और 7500 किलोमीटर।

भारत में 2020 की सर्वश्रेष्ठ कार बीमा पॉलिसी

नीचे दी गई टेबल में भारत की सर्वश्रेष्ठ कार बीमा पॉलिसी की पूरी लिस्ट है जिसमें कार बीमा कंपनियों द्वारा पर्सनल एक्सीडेंट कवर और नेटवर्क गेराज भी दिए गए हैं:

कार बीमा

कंपनी नेटवर्क गेराज

पर्सनल एक्सीडेंट कवर मालिक/ चालक

भारतीय आलियांज कार बीमा

4000+

15 लाख तक

भारतीय एक्सा कार बीमा

5200+

15 लाख तक

चोला एमएस कार बीमा

6900+

15 लाख तक

डिजिट कार बीमा

1400+

15 लाख तक

एयरटेल वीएस कार बीमा

1000+

15 लाख तक

फ्यूचर जनरली कार बीमा

2500+

15 लाख तक

एचडीएफसी एर्गो कार बीमा

6800+

15 लाख तक

इफको टोकियो कार बीमा

4300+

15 लाख तक

कोटक महिंद्रा कार बीमा

1000+

15 लाख तक

लिबर्टी कार बीमा

4300+

15 लाख तक

नेशनल कार बीमा

लागू नहीं

15 लाख तक

न्यू इंडिया एश्योरेंस कार बीमा

1100+

15 लाख तक

ओरिएंटल कार बीमा

लागू नहीं

15 लाख तक

रिलायंस कार बीमा

3700+

15 लाख तक

रॉयल सुंदरम कार बीमा

4600+

15 लाख तक

एसबीआई कार बीमा

5400+

श्रीराम कार बीमा

1500+

15 लाख तक

टाटा एआईजी कार बीमा

लागू नहीं

15 लाख तक

यूनाइटेड इंडिया कार बीमा

700+

15 लाख तक

यूनिवर्सल सोमपीओ कार बीमा

लागू नहीं

15 लाख तक

डिस्क्लेमर: “पॉलिसी बाजार किसी भी बीमा कंपनी, किसी भी प्लान का समर्थन,सिरफारिश और मूल्यांकन नहीं करता।"

कार बीमा पॉलिसी के फायदे

आपको अपनी कार का बीमा सिर्फ कानून के लिए नहीं आपके वाहन के लिए भी करवाना चाहिए। अगर आप नई गाड़ि या पुरानी गाड़ी भी खरीदते हैं तो उसका बीमा हमेशा चाहिए होता है। थर्ड पार्टी बीमा थर्ड पार्टी सेकानूनी और वित्तीय लायबिलिटी से सुरक्षा देता है।

फिर भी आपको एक कंप्रिहेंसिव कवर लेना चाहिए जो ना कि सिर्फ थर्ड पार्टी कवरेज दे पर आपके वाहन को भी नुकसान से बचाए। नीचे चौपहिया वाहन बीमा पॉलिसी लेने के कुछ फायदे दिए गए हैं:

  • व्यक्तिगतऐक्सिडेंट कवर: एक व्यापक कार बीमा पॉलिसी केवल तृतीय पक्ष गवरी नहीं देती अपितु वह पर्सनल एक्सीडेंट कवर भी देती है। पर्सनल एक्सीडेंट कवर में आपको दुर्घटना के कारण हुई मृत्यु या पूर्ण स्थाई अपंगता पर एक निश्चित रकम मिलती है। इसी के साथ आप बिना किसी नाम के अपने वाहन के अधिकतम सीटिंग कैपेसिटी के अनुसार अपने अन्य यात्रियों के लिए भी कवर ले सकते हैं। हालांकि इसमें कवरेज की रकम लो पहले से तय होती है।
  • बीमितवाहन को नुकसान: कंप्रिहेंसिव कार बीमा पॉलिसी में आपके वाहन को हुए किसी भी नुकसान के लिए कवरेज होता है। नुकसान के कई कारण जैसे आग दुर्घटना आदि इस प्लान में कवर होते हैं। इसी के साथ अगर गाड़ी को चोरी, डकैती, दंगे, आतंकवाद आदि से कोई नुकसान होता है तो उसे भी बीमा पॉलिसी कवर करती है। इसके अतिरिक्त यह ट्रेन हवाई रोड या पानी के कारण हुए नुकसान को भी कवर करती है।
  • गेराजका बड़ा नेटवर्क: बहुत सी बीमा कंपनियां गेराज का एक बड़ा नेटवर्क देती है जो पूरे देश में फैला हुआ होता है। इससे आप अपने वाहन की कहीं पर भी सर्विस करवा सकते हैं।
  • नोक्लेम बोनस: का बीमा पॉलिसी होने का सबसे बड़ा फायदा है नो क्लेम बोनस (एनसीबी)। हर क्लेम फ्री साल पर आप इसे ले सकते हैं। नो क्लेम बोनस से आप अगले प्रीमियम पर छूट ले सकते हैं और इससे चौपहिया बीमा पॉलिसी बहुत सस्ती हो जाती है।
  • तृतीयपक्ष लायबिलिटी: अगर आपकी कार का कोई एक्सीडेंट हो जाता है और थर्ड पार्टी को नुकसान होता है तो आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है क्योंकि यह आप की चौपहिया बीमा पॉलिसी में कवर होता है। अगर आपके द्वारा किए गए किसी एक्सीडेंट से थर्ड पार्टी को मृत्यु या कोई अन्य नुकसान हो जाता है तो बीमा पॉलिसी में इसका भी कवरेज होता है।

सबसे बढ़िया कार बीमा योजना कैसे चुने?

का बीमा पॉलिसी चुनना मुश्किल काम है क्योंकि यह आपका वार्षिक निवेश है जो आप रोड पर चलने से होने वाले जोखिमों से बचने के लिए करते हैं। बाजार में चौपहिया बीमा पॉलिसी के प्लान भरे हुए हैं जो उपभोक्ताओं को अपनी सेवाएं देते हैं। क्या आप सबसे बढ़िया चौपहिया बीमा पॉलिसी खरीदने में असमंजस में है?

नीचे दी गई चेक लिस्ट से आप सर्वश्रेष्ठ कार बीमा कंपनियों की ऑनलाइन तुलना कर पाएंगे और अपने लिए बढ़िया प्लान सुन पाएंगे। इस लिस्ट को देखकर आप इन्कुररेड क्लेम रेशों, नेटवर्क गेराज और कवरेज लाभ आदि के आधार पर 2020 के सबसे सर्वश्रेष्ठ कार बीमा प्लान सुन सकते हैं।

कार बीमा पॉलिसी खरीदते समय ध्यान में रखने योग्य बातें:

  • क्याक्या कवर है- अपनी कंप्रिहेंसिव वाहन बीमा पॉलिसी और थर्ड पार्टी बीमा में अंतर्निहित और अपवर्जित जांच लें।
  • कारबीमा की ऑनलाइन तुलना करें- का बीमा क्यों ऑनलाइन तुलना करें और ऐसा प्लान चुनें जिसमें आपकी सारी वित्तीय जरूरतें पूरी हो रही हो। आपको भारत में सर्वश्रेष्ठ का बीमा कंपनियों का चौपहिया वाहन बीमा कोट आसानी से ऑनलाइन मिल जाएगा।
  • बीमाधारकदावा प्रमाण: जितना ज्यादा इनकम क्लेम रेशों उतना ही संतुष्ट उपभोक्ता और उतने ही ज्यादा क्लेम पूरे होने का अवसर ।
  • ऐडऑनकवर- ज्यादातर यही सलाह दी जाती है कि रोड असिस्टेंट, जीरो डेप्रिसिएशन, फ्लैट टायर असिस्टेंट आदि अतिरिक्त लाभ से युक्त कंपनी से बीमा पॉलिसी ही लेनी चाहिए

कार बीमा पॉलिसी में क्या-क्या कवर होता है?

चौपहिया बीमा पॉलिसी में निम्नलिखित कवर होता है:

  • बीमितवाहन को नुकसान या खराबी
  • आपकेवाहन को दुर्घटना, चोरी, आग, विस्फोट, दंगे, आतंकवाद, प्राकृतिक आपदाओं से होने वाले नुकसान या खराबी
  • थर्डपार्टी नुकसान से हुई वित्तीय लायबिलिटी जैसे चोट या मृत्यु
  • पर्सनलएक्सीडेंट बीमा कवर

कार बीमा पॉलिसी में ऐडऑन कवर

ऐडऑन कवर आपके चौपहिया बीमा प्लान में जुड़ने वाले अतिरिक्त कवर हैं जो आपकी गाड़ी को किसी भी नुकसान या खराबी से बचाते हैं। ऐडऑन कवर को अतिरिक्त प्रीमियम देकर खरीदा जा सकता है। कुछ ऐडऑन कवर के नाम है- नो क्लेम बोनस प्रोटक्शन कवर, जीरो डिप्रेशिएशन कवर, इंजन प्रोटक्शन कवर, की प्रोटेक्शन कवर आदि।

  1. नोक्लेमबोनस सुरक्षा कवर

हर क्लेम फ्री वर्ष के लिए बीमा धारक को रिनुअल प्रीमियम पर कुछ छूट मिलती है। इस छूट को नो क्लेम बोनस एनसीबी कहते हैं। यह हर साल बढ़ती जाती है। यह अधिकतर 10 से 50% के बीच होती है और इससे अपने वाहन बीमा पर दिए जाने वाले प्रीमियम पर आप अच्छी छूट ले सकते हैं।

एक उदाहरण से समझते हैं कि अगर पॉलिसी धारक ने अपनी वाहन बीमा पॉलिसी की अवधि में कोई क्लेम नहीं किया तो वह नो क्लेम बोनस के लिए योग्य हो जाता है जिसके आधार पर उसे प्रीमियम पर कुछ छूट मिलती है।नो क्लेम बोनस प्रोटक्शन कवर से आप पॉलिसी अवधि में क्लेम करने के बाद भी अपने एनसीबी को जारी रख सकते हैं।इसकी नियम और शर्तें एक बीमा कंपनी से दूसरे बीमा कंपनी में अलग अलग हो सकती है।

  1. इंजनसुरक्षाकवर

इंजन गाड़ी का सबसे जरूरी हिस्सा होता है। ऑयल लीकेज और वाटर इंग्रेसन के कारण होने वाले नुकसान को इंजेक्शन प्रोटेक्शन कवर सुरक्षित करता है। यह गियर बॉक्स पार्ट,इंजन पार्ट्स, डिफरेंट पार्ट को भी कवर करता है।

  1. शुन्यअवमूल्यनकवर

इस अतिरिक्त विशेषता से आप अपनी कार्य की गिरती हुई वैल्यू को भी बचा सकते हैं। यह कवर लेने पर आपको आपके वाहन के हिस्सों का डेप्रिसिएशन वैल्यू नहीं देना होगा। यह प्राइवेट गाड़ियों पर लागू होता है और पॉलिसी अवधि के दौरान किए गए कुछ क्लेम पर ही मिलता है। जीरो डेप्रिसिएशन का और होने के बाद भी कंपल्सरी और वॉलिंटियरिंग डिडक्टिबल काट लिए जाएंगे। कोई भी खरीद करने से पहले आप बीमा कंपनी की शर्त और नियम जान ले।

  1. कंज्यूमएबल्सकवर

कई बार कोई अनहोनी होने के कारण आपकी सारी बचत पानी में मिल जाती है। कंसीवेबल कवर में ऐसे सारे खर्चे जुड़े हुए होते हैं जो कनजूमेबल चीजों पर होते हैं। कंज्यूमएबल चीजों में नट,बोल्ट, वॉशर, एसी गैस ,ग्रीस, लुब्रिकेंट, बेयरिंग, क्लिप, इंजन ऑयल, पानी, ऑयल फिल्टर ,ब्रेक ऑयल और फ्यूल फिल्टर कवर होते हैं।

इस कवर पर कई नियम और शर्तें लागू होती है जो हर बीमा कंपनी में अलग अलग हो सकती है। यह प्राइवेट कार पर लागू होती है और एक निश्चित क्लेम करने पर ही मिलती है। कोई भी खरीद करने से पहले आप कंपनी से जान ले।

  1. कीसुरक्षाकवर

सभी ने अपने जीवन में एक ना एक बार अपनी गाड़ी की चाबी जरूर घुमाई होगी। ऐसे मामलों में बीमा कंपनी आपको अपनी गाड़ी की चाबी को ठीक कराने और नयी बनवाने में वित्तीय सहारा दे सकती है। की प्रोडक्ट कवर में निम्नलिखित चीजें जुड़ी होती हैं :

  • पॉलिसीअवधि के दौरान आप सुनिश्चित बार क्लेम कर सकते हैं
  • कोईभी चोरी या डकैती पुलिस एफ आई आर के साथ होनी चाहिए
  • नयीचाबियां पुरानी चाबियां या चोरी की गई चाबी जैसी ही होगी
  • टूटीहुई क्या खराब हुई चाबी बीमा कंपनी द्वारा बदल दी जाएगी
  • चाबियांचोरी होने पर या खो जाने पर बाकी चाबियां बीमा कंपनी को सौंप देने के बाद बीमा कंपनी चाबी के पूरे गुच्छे को बदल देगा और लॉक सेट को भी बदल देगी।
  1. नियमितएलाउंसफायदा

अगर आपकी गाड़ी किसी दुर्घटना में खराब हो जाती है और उस को रिपेयर के लिए देना पड़ता है तो आपको अपने आप आना-जाना करना पड़ेगा। यह ऐड ऑन कवर आपकी गाड़ी रिपेयर में जाने पर आपके काम आएगा। इस कवर के अंतर्गत 3 दिन से अधिक अगर आप का वाहन गेराज में रहता है तो आपको डेली ट्रैवल एलाउंस मिलेगा।

  1. पर्सनलएक्सीडेंटराइडर लाभ

एक्सीडेंट राइडर एक अतिरिक्त एंड ऑनलाइन है जिसे कंप्रिहेंसिव ऑटो बीमा से अतिरिक्त प्रीमियम दे कर लिया जा सकता है। यह राइडर पॉलिसी धारक को दुर्घटना में हुए नुकसान, चोट या अपंगता होने पर होने वाले अस्पताल के खर्चे से बचाता है।

  1. कारएक्सेसरीका कवर

एक आसान सी ऐड ऑन पॉलिसी लेकर आप अपनी गाडी की एक्सेसरी को कवर जो एक सामान्य चौपहिया बीमा पॉलिसी कवर नहीं करती। ऐसे जुड़ाव से प्रीमियम ज़रूर बढ़ता है परन्तु यह नयी एक्सेसरी खरीदने से तो सस्ता है।

  1. हायडिडक्टिबलदेने से बचें

डिडक्टिबल अमाउंट का एक निश्चित प्रतिशत होता है जो बीमा धारक को खुद देना पड़ता है। बीमा धारक महंगे डिडक्टिबल देकर बचत कर सकता है। क्लेम करते समय अगर आप ज्यादा डिडक्टिबल देंगे तो आप की बीमा कंपनी बाद में आपको प्रीमियम पर छूट देगी।

कार बीमा पॉलिसी में क्या कवर नहीं होता है?

निम्नलिखित चौपहिया बीमा पॉलिसी में कवर नहीं होते हैं:

  • पॉलिसीचालू ना होने पर हुए नुकसान या खराबी
  • समयके साथ होने वाली टूट-फूट
  • बिनालाइसेंस चालक द्वारा किया गया कोई भी नुकसान या खराबी
  • नशेमें धुत चालक द्वारा किया गया कोई भी नुकसान या खराबी
  • ऑयललीकेज के कारण इंजन को हुआकोई भी नुकसान या खराबी
  • उत्पादकके निर्देशों का पालन ना करने से हुआ नुकसान या खराबी

गाड़ी की बीमा प्राइस कैसे कैलकुलेट करें?

गाड़ी की इंश्योरेंस प्राइस बहुत से कारणों पर आधारित होती है। ऑनलाइन कार बीमा केलकुलेटर की मदद लेकर आप चौपहिया बीमा प्रीमियम पता लगा सकते हैं। हालांकि बीमा कंपनियां नीचे दिए गए आधारों को ध्यान में रखते हुए आपकी कार इंश्योरेंस प्राइस तय करती हैं:

  • वाहनकीआईडीवी इनश्योर्ड डिक्लेयर्ड वैल्यू
  • गाड़ीकी उम्र और गाड़ी का प्रकार
  • इंजनकी क्यूबिक क्षमता
  • भौगोलिकक्षेत्र

कार का आईडीवी निकालने का फार्मूला:

आईडीवी= गाड़ी का शोरूम का शुल्क+अतिरिक्त सामान का शुल्क-डेप्रिसिएशन वैल्यू

ओन डैमेज प्रीमियम कैलकुलेशन का फार्मूला:

इनशॉट डिक्लेयर्ड वैल्यू x (बीमा कंपनी के अनुसार कार प्रीमियम)+(वैकल्पिक लाभ)-(एनसीबी /डिस्काउंट आदि)

कार बीमा योजना को ऑनलाइन नवीकृत कैसे करें?

पॉलिसी लाभ को बिना किसी रूकावट लेने के लिए अपनी कार बीमा पॉलिसी को रिन्यू कराना अनिवार्य है। इसलिए आपको इस बात का पूरा ध्यान रखना चाहिए कि आपकी कार पॉलिसी समाप्त होने से पहले आप उसे रिन्यू करा ले। नीचे दिए गए चरणों के अनुसार आप अपनी पॉलिसी को ऑनलाइन रिन्यू करा सकते हैं:

  • नवीकृतविभाग पर जाएं।
  • पेजपर मांगी गई जानकारी भरें जैसे आप का पॉलिसी नंबर, मोबाइल नंबर, जन्मतिथि आदि और जमा कर दें।
  • अपनीइच्छा अनुसार चौपहिया बीमा प्लान चुने।
  • अगरआप कोई अतिरिक्त ऐडऑन कवर लेना या हटाना चाहते हैं तो उसे चुने।
  • आपकेद्वारा देने योग्य प्रीमियम पेज पर दिखा दिया जाएगा।
  • बीमाप्रीमियम क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, नेट बैंकिंग की मदद से ऑनलाइन भरे।
  • भुगतानपूरा होने के बाद आप की चौपहिया बीमा पॉलिसी रिन्यू कर दी जाएगी।

आपको आपकी पंजीकृत ईमेल आईडी पर नये पॉलिसी दस्तावेज मिल जाएंगे। आप इसे डाउनलोड कर सकते हैं और इसका कभी भी प्रिंट आउट ले सकते हैं।

कार बीमा योजना ऑनलाइन नवीकरण कराने के फायदे

कार बीमा पॉलिसी की एक वैधता सीमा होती है और उसके समाप्त होने पर आपको अपनी गाड़ी को बीमित रखने के लिए उसे रिन्यू कराना होगा। आप अपनी पॉलिसी को ऑनलाइन या ऑफलाइन भी रिन्यू करा सकते हैं। हालांकि बहुत से लोग आज भी पॉलिसी को ऑफलाइन रिन्यू कराते हैं पर ऑनलाइन रिन्यूअल बेहतर है। नीचे ऑनलाइन रिन्यूअल कराने के फायदे दिए गए हैं:

  • आसानऔर तेज प्रक्रिया: अपनी कार पॉलिसी को ऑनलाइन रिन्यू कराने के लिए आपको सिर्फ अच्छा इंटरनेट कनेक्शन चाहिए। एक अच्छे इंटरनेट कनेक्शन से आप अपने घर पर बैठे हुए किसी भी समय अपना बीमा प्लान रिन्यू करा सकते हैं। इस तरह से ऑनलाइन रिन्यूअल आसान है और तेज भी है और इसके लिए आपको किसी एजेंट के पास या किसी ब्रांच पर नहीं जाना पड़ेगा। साथ ही साथ ऑनलाइन कार पॉलिसी के रिन्यूअल की प्रक्रिया में कागजी कार्रवाई बहुत कम होती है।
  • पॉलिसीका आसान उन्मूलन: आप अपनी पॉलिसी को ऑनलाइन रिन्यू कराते समय उसका उन्मूलन भी कर सकते हैं। आप अपनी पॉलिसी में ऐड ऑन जुड़वा कर उसका विस्तार भी बढ़ा सकते हैं। हालांकि आपको यह भी ध्यान में रखना चाहिए कि ऐडऑन लेने से आप का प्रीमियम भी प्रभावित होगा।
  • सुरक्षितरिन्यूअल /खरीद प्रक्रिया: ऑनलाइन रिन्यूअल कराना एक आसान तरीका है क्योंकि इंटरनेट पर सारी जरूरी जानकारी दी गई है। इस पारदर्शिता से आप एक अच्छा फैसला ले सकते हैं। इसी के साथ सुरक्षित गेटवे से आप का भुगतान सुरक्षित होगा और आपकी निजी जानकारी कहीं लीक नहीं होगी। इससे आपको फ्रॉड से भी बचाया जाता है।
  • बीमाकंपनी बदलने की आसान प्रक्रिया: ऊपर दिए गए सभी लाभों के अतिरिक्त आप ऑनलाइन पॉलिसी रिन्यू करते समय आसानी से अपनी बीमा कंपनी बदल सकते हैं। क्योंकि इंटरनेट पर सभी बीमा कंपनियों की जानकारी उपलब्ध है इससे आप कार बीमा तुलना कर सकते हैं और प्रीमियम और विशेषताओं के आधार पर सबसे अच्छा प्लान चुन सकते हैं।
  • नोक्लेम बोनस हस्तांतरण की आसान प्रक्रिया: पॉलिसी रिनुअल के समय आपको हमेशा अपना नो क्लेम बोनस या एनसीबी हस्तांतरित कराना चाहिए। ऑनलाइन रिन्यूअल प्रक्रिया में यह ऑफलाइन की तुलना में बहुत जल्दी और आसानी से हो जाता है।
  • पारदर्शीप्रक्रिया: क्योंकि ऑनलाइन रिन्यूअल प्रक्रिया हमारी आंखों के सामने हैं इसलिए इसमें कोई छुपा हुआ एजेंट आपसे कोई भी जानकारी नहीं छुपा रहा। चाहे वह पॉलिसी की तुलना हो, बीमा कंपनी बदलना हो, या भुगतान करना हो, सब कुछ आपके द्वारा चुना हुआ होता है और आप ही के सामने होता है। इसलिए पॉलिसी रिनुअल का ऑनलाइन तरीका बहुत ही पारदर्शी है।

ऑनलाइन कार बीमा पॉलिसी खरीदने के फायदे

आजकल सभी का बीमा पॉलिसी ऑनलाइन खरीदते हैं। आप ऑनलाइन चौपहिया बीमा पॉलिसी खरीद कर अपने वाहन को दुर्घटना, चोरी, आग आदि होने वाले नुकसान से सिर्फ 2 मिनट में बचा सकते हैं। क्या आप यह सोच रहे हैं कि आजकल सभी ऑनलाइन पॉलिसी क्यों खरीद रहे हैं तो आइए उसके लाभ देखते हैं:

  1. बिनाकिसीएजेंट के

ऑफलाइन पॉलिसी खरीदने से एजेंट आपको अपना उत्पाद बेचने में ज्यादा रुचि रखते हैं ना कि आपको अन्य बीमा कंपनी से बेहतर पॉलिसी दिलाने में। ऑनलाइन का बीमा पॉलिसी खरीदने से इन सभी कारणों की समाप्ति हो जाएगी और आप बहुत से प्लान की तुलना करने के बाद सबसे अच्छा प्लान खरीद सकेंगे।

  1. कोईपेपरवर्क नहीं

ऑनलाइन पॉलिसी खरीदने का एक और फायदा है कि उसमें कोई कागजी कार्यवाही नहीं होती। ऑफलाइन पॉलिसी खरीदने पर आपको बहुत से फॉर्म भरने पड़ते हैं वहीं ऑनलाइन पॉलिसी खरीदने पर आपको सारे फॉर्म ऑनलाइन भरने पड़ते हैं। इसके साथ आपको जरूरी दस्तावेज भी अपलोड करने पड़ते हैं जिससे पूरी प्रक्रिया कागजी कार्रवाई के बिना पूरी हो जाती है।

  1. सुविधाजनकऔरसमय बचाती है

ऑफलाइन पॉलिसी खरीदने की तुलना में ऑनलाइन पॉलिसी खरीदना बहुत ही सुविधाजनक है। आपको किसी बीमा कंपनी की ब्रांच पर जाने की जरूरत नहीं है और किसी एजेंट से भी मिलने की जरूरत नहीं है। आप अपने घर पर बैठे अपना समय और मेहनत बचाते हुए कार बीमा पॉलिसी खरीद सकते हैं।

  1. पेमेंटरिमाइंडर

पॉलिसी भुगतान या रिनुअल भूलने पर आपको बहुत नुकसान हो सकता है। इसे आपको रिनुअल छूट नहीं मिलेगी और पॉलिसी में ब्रेक हो जाएगा। लेकिन अगर आप अपनी कार बीमा पॉलिसी ऑनलाइन खरीदते हैं तो आपको किसी से पहले ही याद दिला दिया जाएगा जिससे आप भुगतान देने से ना चूके।

  1. निकदहीनसुविधा

चौपहिया बीमा पॉलिसी ऑनलाइन खरीदने से आपको कैशलेस सुविधा मिलती है और जीरो कैश ट्रांजैक्शन के बिना आप पॉलिसी खरीद सकते हैं। आप डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड या इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल करके बीमा प्रीमियम ऑनलाइन भर सकते हैं।

  1. आसानतुलना

ऑनलाइन पॉलिसी खरीदने पर आप बीमा कंपनियों द्वारा दिए गए अलग-अलग प्लान की तुलना कर सकते हैं। ऑनलाइन जाकर आप कवरेज, प्रीमियम आदि की तुलना कर अपनी गाड़ी के लिएसर्वश्रेष्ठ पॉलिसी खरीद सकते हैं।

  1. ज्यादाकिफायती

बीमा पॉलिसी ऑनलाइन खरीदना ज्यादा किफायती है क्योंकि इसमें बीच के सारे खर्चे बच जाते हैं। एजेंट, कागजी कार्यवाही पूरी तरह से हटने पर आपका प्रीमियम कम हो जाता है।

  1. आसानबदलाव

एंडोर्समेंट का अर्थ है पॉलिसी दस्तावेज में दी किसी भी जानकारी को बदलना। ऑनलाइन एंडोर्समेंट देते समय आपको सिर्फ एक घोषणापत्र देना है जबकि ऑफलाइन खरीदते समय आपको यह फॉर्म खुद बनाना पड़ता था और सारे दस्तावेज भी जमा करने पड़ते थे।

  1. दस्तावेजकीसॉफ्ट कॉपी

ऑनलाइन पॉलिसी खरीदने का एक और लाभ यह है कि आपके ईमेल में आपकी पॉलिसी की सॉफ्ट कॉपी होती है। इसे आप कहीं पर भी उसे देख सकते हैं और इसके लिए आपको कोई भी दस्तावेज साथ में लेकर नहीं चलने पड़ेंगे।

तृतीय पक्ष बीमा बनाम व्यापक चौपहिया बीमा

तृतीय पक्ष बीमा और व्यापक चौपहिया बीमा के बीच का सबसे महत्वपूर्ण फर्क है उनके द्वारा दिया गया कवर।जहां थर्ड पार्टी इंश्योरेंस में आपकी गाड़ी द्वारा थर्ड पार्टी के हुए कोई नुकसान या खराब ही को कवर करता है वही कंप्रिहेंसिव कार बीमा पॉलिसी आपके खुद के वाहन को हुए नुकसान को भी कवर करती है। आइए इन दोनों मोटर वाहन बीमा पॉलिसी की तुलना करें:

आधार

तृतीय पक्ष कार बीमा

कंप्रिहेंसिव कार बीमा

कवरेज

यह बीमा प्लान थर्ड पार्टी व्यक्ति स्थान या वस्तु को बीमित वाहन से हुए नुकसान को कवर करता है।

यह बीमा प्लान बीमित वाहन और थर्ड पार्टी दोनों को हुए नुकसान या खराबी को कवर करता है।

क्या कवरेज काफी है?

नहीं क्योंकि बीमित वाहन अभी भी जोखिम में है।

हां कंप्रिहेंसिव पॉलिसी में आप ऐड ऑन डालकर उसे और विस्तृत भी कर सकते हैं।

क्या ऐडऑन की सुविधा उपलब्ध है?

यहां पर सिर्फ एक ही ऐड होना उपलब्ध है और वह है पर्सनल एक्सीडेंट।

आप विस्तृत का बीमा पॉलिसी में रोड असिस्टेंट एप्रिसिएशन एसेसरी कवर जैसे बहुत से ऐडऑन जोड़ सकते हैं।

क्या यह किफायती है?

थर्ड पार्टी इंश्योरेंस सस्ता होता है क्योंकि उसका कवरेज कम होता है।

थर्ड पार्टी वाहन बीमा को आईआरडीएआई मंजूर करता है जो वाहन की क्यूबिक क्षमता पर आधारित है।


कंप्रिहेंसिव वाहन बीमा ज्यादा महंगा होता है क्योंकि इसका कवरेज भी ज्यादा होता है। इसे बीमा कंपनी खुद निर्धारित करती है और यह प्लान की नियम और शर्तों के अनुसार होता है।

इसलिए कम्प्रेहैन्सिव कार बीमा थर्ड पार्टी बीमा कवर से ज्यादा अच्छा है क्योंकि इसका कवरेज ज्यादा विस्तृत है। इसी के साथ आप ऐडऑन जोड़कर अपना कवरेज उन्मूलन कर सकते हैं जबकि हर पार्टी चौपहिया बीमा प्लान आपको और आपके वाहन को जोखिम में रखता है।

इन दोनों के बारे में और विस्तार से समझते हैं:

  1. तृतीयपक्षका बीमा

तृतीय पक्ष कार बीमा एक चौपहिया वाहन पॉलिसी है जो बीमित कार के मालिक को किसी भी थर्ड पार्टी को हुए नुकसान और खराबी से कवर करती है। मोटर वाहन अधिनियम 1988 के अनुसार थर्ड पार्टी वाहन बीमा पॉलिसी होना अनिवार्य है। इस पॉलिसी में:

  • कानूनीदेनदारी
  • तृतीयपक्ष देनदारी
  • दुर्घटनामें चौपहिया वाहन से किसी और की मृत्यु की भरपाई
  1. व्यापककारबीमा

एक कंप्रिहेंसिव कार बीमा पॉलिसी में बहुत विस्तृत कवरेज होता है जो थर्ड पार्टी देनदारी और खुद के द्वारा हुए नुकसान दोनों को कवर करता है। कंप्रिहेंसिव प्लान लेना कानून के हिसाब से अनिवार्य नहीं है पर उसके विस्तृत कवरेज के होने के कारण बहुत से कार चालक इसको लेना बेहतर समझते हैं। इस पॉलिसी में:

  • खुदके द्वारा हुआ नुकसान का कवरेज
  • विस्तृतकवरेज
  • एडऑन होने के कारण और बढ़ा हुआ कवरेज

कंप्रिहेंसिव और थर्ड पार्टी कार बीमा खरीदने के तरीके:

चौपहिया बीमा पॉलिसी खरीदना बिल्कुल भी मुश्किल नहीं है। आप इसे नीचे दिए 3 तरीकों में से किसी भी तरीके से खरीद सकते हैं:

  • ऑनलाइन:कंप्रिहेंसिव या थर्ड पार्टीबीमा खरीदने के लिए आपको सिर्फ अपने द्वारा चयनित वाहन बीमा कंपनी की वेबसाइट पर जाना है। बिना किसी कागजी कार्यवाही के आप सस्ते दामों में कार बीमा ऑनलाइन खरीद सकते हैं।
  • बीमाकंपनी की सबसे नजदीकी ब्रांच पर जाना: बीमा कंपनी छोड़ने के बाद आप उसकी सबसे नजदीकी ब्रांच पर जाकर अपनी कार को बिमित करा सकते हैं।
  • बीमाएजेंट की मदद से: सबसे आखरी तरीका है बीमा एजेंट की मदद से बीमा लेना। एक बीमा एजेंट बीमा कंपनी का साथी होता है। आवेदन पत्र और अन्य जानकारी भी बीमा एजेंट दे सकता है।

कार बीमा का दावा कैसे करें?

सभी कार मालिक किसी ना किसी समय पर नुकसान या खराबी के लिएकार बीमा क्लेम लेते हैं। चार पहिया वाहन बीमा क्लेम लेने से पहले आपको कुछ बिंदु समझ लेने चाहिए:

  • ध्यानरखें कि क्लेम करते समय आपके पास सारी जानकारी तैयार हो।
  • दुर्घटनाका समय और तिथि।
  • चालकका नाम और उसकी ड्राइविंग लाइसेंस की जानकारी।
  • चौपहियावाहन बीमा पॉलिसी नंबर
  • अनुमानितनुकसान
  • दुर्घटनाका छोटा सा विवरण
  • जांचप्रक्रिया को सहारा देने के लिए सर्वे लोकेशन
  • बीमितकी जानकारी
  • उपभोक्ताहेल्पडेस्क पर क्लेम की जानकारी देनी चाहिए। वे आपको क्लेम प्रक्रिया तक ले जाएंगे।
  • एकबार आपने सूचित किया है, बीमाकर्ता की ग्राहक सहायता टीम आपको दावा संदर्भ संख्या प्रदान करेगी।
  • दावापंजीकरण पर, एक सर्वेक्षक को आपके मामले के लिए सौंपा जाएगा।
  • स्वीकृतिनोटिफिकेशन के साथ आपको लॉस एसेसर की जानकारी भी दी जाएगी
  • आपसर्वेक्षक के साथ एक उपयुक्त समय के लिए समन्वय कर सकते हैं और वह आपकी सुविधा के अनुसार सर्वेक्षण करेंगे।
  • आपकोअपने वाहन का प्रकार नुकसान की गंभीरता आदि दस्तावेज असेसर को देने होंगे
  • आपकोउसे क्लीन प्रोसेसिंग टीम की जरूरतों के बारे में बताना होगा जिससे कि वह आपका क्लेम सेटल कर सके
  • अगरआपकी सर्वेयर द्वारा इंस्पेक्शन का सुझाव दिया गया है तो उसे फिर से बात करें
  • सर्वेके हिसाब से क्लेम सेटेलमेंट किया जाएगा

कार बीमा क्लेम करते समय जरूरी दस्तावेज

बीमा कंपनी के साथ क्लेम रजिस्टर करते समय निम्नलिखित दस्तावेजों को तैयार रखना चाहिए:

  • पुलिसएफ आई आर की प्रतिलिपि
  • पॉलिसी धारक द्वारा मान्य किया गया फॉर्म
  • व्यवसायिकवाहनों के लिए फिटनेस प्रमाण पत्र
  • ड्राइविंगलाइसेंस
  • कारपंजीकरण प्रमाणपत्र आरसी
  • एंडोर्समेंटऔर बीमा दस्तावेज

सभी जरूरी दस्तावेजों को जमा करने के एक हफ्ते के अंदर-अंदर बीमा कंपनी आपका क्लेम सेटल कर देगी।

कार बीमा के ऑनलाइन कोट पॉलिसी बाजार पर कैसे पाएं?

पॉलिसी बाजार पर आपको अपनी गाड़ी का प्रकार, मॉडल, तरीका, उत्पादन का साल आदी आसान सी जानकारी देकर अलग-अलग बीमा कंपनियों से कार बीमा शुल्क के बारे में पता चल सकता है। इससे आपको उन्मूलन कोट मिलते हैं और प्रीमियम पर बचत भी होती है साथ ही आप अपनी सुविधा अनुसार पॉलिसी ले सकते हैं।

फॉर्म भरते समय आपको निम्नलिखित शब्दों की जानकारी होनी चाहिए:

  1. कारकीबनावट मॉडल और उसका प्रकार

बेस्ट प्रीमियम की गणना करने के लिए यह जानकारी बहुत जरूरी है। एक बड़ी, महंगी गाड़ी का प्रीमियम ज्यादा होगा। जैसे एक एसयूवी गाड़ी का प्रीमियम फैमिली गाड़ी से ज्यादा होगा।

  1. बनावटकासाल

आप की बनावट के साल के आधार पर आप बीमा कंपनी आपकी गाड़ी का बीमाकृत घोषित वैल्यू आईडीवी तय करती है। इससे आपकी गाड़ी का वार्षिक प्रीमियम तय होता है।

  1. सीएनजीवालीगाड़ी

सीएनजी ज्यादा ज्वलंत होने के कारण सीएनजी की गाड़ी पेट्रोल या डीजल की गाड़ी से ज्यादा प्रीमियम वाली होती है।

  1. अतिरिक्तकवर

आपको यह जानकारी भी देनी होगी कि क्या आप इलेक्ट्रिकल और नॉन इलेक्ट्रिकल सामानों पर अतिरिक्त कवर चाहते हैं। बहुत से बीमा कंपनियां 4% अतिरिक्त प्रीमियम लेकर यह कवर देती हैं।

कार बीमा पॉलिसी बारे में पूछे गए सामान्य प्रश्न

  • प्रश्न- कार बीमा पॉलिसी को रिन्यू कब कराना चाहिए?

    उत्तर- कार बीमा पॉलिसी को एक्सपायरी की तिथि से पहले रिन्यू करा लेना चाहिए। इससे पॉलिसी में कोई रुकावट नहीं होगी और नो क्लेम बोनस जैसे लाभ भी मिलते रहेंगे।

  • प्रश्न- कार बीमा पॉलिसी में जीरो डेप क्या होता है?

    उत्तर- जीरो डेप का अर्थ है जीरो डिप्रेशिएशन कार बीमा।यह 18 ऑन खबर है जो पॉलिसी धारक को नॉट डिक्लेयर्ड वैल्यू आईडी वीजा मार्केट की अभी की वैल्यू को ध्यान में बिना लिए हुए भरपाई देता है। अपनी चौपहिया बीमा पॉलिसी में जीरो डेप के लाभ लेने के लिए आपको अतिरिक्त प्रीमियम देना होगा।

  • प्रश्न- एक वर्ष हम कितनी बार कार बीमा क्लेम कर सकते हैं?

    उत्तर- क्लीन करने की सीमा हर कंपनी में कंपनी से बीमा कंपनी अलग-अलग होती है। अधिकतर कार बीमा कंपनी आईडीवी के रहने तक आपको 1 साल में कहीं क्लेम करने का मौका देती हैं। आप अपनी पॉलिसी दस्तावेज को देखकर यह जान सकते हैं कि आप कितनी बार अपनी चौपहिया वाहन पॉलिसी में 1 साल में क्लेम कर सकते हैं।

  • प्रश्न- बंपर टो बंपर कार बीमा पॉलिसी क्या होती है?

    उत्तर-बंपर टो बंपर कार बीमा पॉलिसी एक ऐसी पॉलिसी है जिसमें आपकी बीमित गाड़ी को बिना उसके हिस्सों के डेप्रिसिएशन को ध्यान में लिए कवरेज मिलता है। दूसरे शब्दों में यह चौपहिया बीमा पॉलिसी पॉलिसी धारक को नुकसान या खराबी होने पर गाड़ी की बाजारी कीमत तक भरपाई लेने का मौका देती है। हालांकि इस पॉलिसी में अन्य चौपहिया बीमा पॉलिसी से 20% अतिरिक्त प्रीमियम लगता है।

  • प्रश्न- बीमा पॉलिसी में इनशॉरड डिक्लेयर्ड वैल्यू आईडीवी क्या है?

    उत्तर-इंश्योर्ड डिक्लेयर्ड वैल्यू IDV वाहन के पूरे नुकसान या खराबी होने पर बीमा धार बीमा कंपनी द्वारा दिया जाने वाला अधिकतम भुगतान है। यह बीमा धन है और हर वाहन की पॉलिसी शुरू होने से पहले तय हो जाता है।

  • प्रश्न-अगर मैं अपनी गाड़ी में सीएनजी एलपीजी किट लगाता हूं तो क्या बीमा कंपनी बताना जरूरी है?

    उत्तर-अगर आप अपनी गाड़ी में एलपीजी सीएनजी लगाते हैं तो उसे आपको पंजीकरण पुस्तक आ गया आरसी में लगाना होगा। इसके बाद आपको अपने बीमा कंपनी को भी इस बदलाव के बारे में बताना होगा और अपनी चौपहिया बीमा पॉलिसी में भी इसे जुड़वाना होगा। आपकी गाड़ी की फ्यूल के अनुसार आपका प्रीमियम भी अलग-अलग होगा।

  • प्रश्न-मैं अपनी कार बीमा पॉलिसी में से हाइपोथैकेशन कैसे हटवाया जुड़वा सकता हूं?

    उत्तर- मूवेबल सामान की सिक्योरिटी के लिए चार्ज बनाना हाइपोथैकेशन होता है। सारा सामान उधार लेने वाले के पास ही होता है। जैसे कि कोई कार लोन लेते समय वाहन लोन लेने वाले के पास ही रहता है पर उसका मालिकाना हक बैंक के पास होता है। इसका अर्थ यह है कि मैं बैंक के पास लो ना भरने की स्थिति में गाड़ी बेचने का अधिकार है। अपनी कार बीमा पॉलिसी में हाइपोथैकेशन जुड़वाने के लिए: बैंक या आरसी की प्रतिलिपि बीमा कंपनी के ऑफिस में जमा करें। वाहन बीमा पॉलिसी से हाइपोथैकेशन हटाने के लिए: नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट आरसी की कॉपी बीमा कंपनी के ऑफिस में जमा करें। अगर कोई वाहन हाइपोथैकेटेड है तो बीमा कंपनी से भुगतान लेने के लिए देनदार से एनओसी लेना जरूरी है। नहीं तो चोरी के अलावा सारे नुकसान की भरपाई देनदार को कर दी जाएगी।

  • प्रश्न- कंप्रिहेंसिव कार पॉलिसी में कौन सी जोखिम कवर होती है?

    उत्तर- कंप्रिहेंसिव कार पॉलिसी में थर्ड पार्टी को देनदारी ,बाहरी कारणों से दुर्घटना ,आग, विस्फोट, दंगे, आतंकवाद, फ्रॉड, भूकंप, बाढ़, तूफान, भूसलखन, रेल, रोड ,पानी, हवाई ,चोरी, डकैती को कवर करती है।

  • प्रश्न- कैशलेस सुविधा क्या होती है?

    उत्तर- कैशलेस सुविधा का अर्थ है कि आपको गाड़ी की मरम्मत के लिए कुछ भी रकम देने की जरूरत नहीं है बीमा कंपनी उसे सीधा गैराज को दे देगी। अगर आपने क्या-क्या सुविधा ली है तो आपको अपने वाहन को बीमा कंपनी द्वारा बताए गए गेराज पर ले जाना होगा। यह बीमा कंपनी गेराज से बात करके क्लेम सेटल कर देगी।

  • प्रश्न- वाहन बीमा में आईडीवी कैसे कैलकुलेट किया जाता है?

    उत्तर- आईडीवी की गणना कार उत्पादक द्वारा बताए गए शुल्क ब्रांड और मॉडल के अनुसार होती है जिसमें लोकल ड्यूटी टैक्स भी शामिल होता है। इसमें पंजीकरण और बीमा शामिल नहीं होता है। नीचे आई डी बना करने के लिए अलग-अलग खान दे रखे हैं:

    वाहन की उम्र

    आईडीवे समायोजित करने के लिए डेप्रिसिएशन प्रतिशत

    6 महीने से कम

    5

    6 महीने से ज्यादा पर 1 साल से कम

    15

    1 साल से ज्यादा पर 2 साल से कम

    20

    2 साल से ज्यादा पर 3 साल से कम

    30

    3 साल से ज्यादा पर 4 साल से कम

    40

    4 साल से ज्यादा पर 5 साल से कम

    50

    5 साल से पुराने वाहनों की डेप्रिसिएशन बीमा कंपनी दर बीमा कंपनी अलग-अलग होती है।

  • प्रश्न- कार बीमा पॉलिसी में नो क्लेम बोनस क्या होता है?

    उत्तर- नो क्लेम बोनस बीमा कंपनियों द्वारा दिया गया प्रीमियम पर एक ऐसी छूट है जो धारक को मोटर बीमा पॉलिसी अवधि के दौरान कोई क्लेम नहीं करने पर मिलती है।

  • प्रश्न- सबसे सस्ता कार बीमा कौन सा है?

    उत्तर- कोई एक पॉलिसी सभी के लिए सस्ती नहीं हो सकती है। अलग-अलग लोगों को अलग-अलग पॉलिसी कवरेज और ऐडऑन के आधार पर किफायती लग सकती है। आपको अपना प्लान चुनने से पहले सभी बीमा कंपनियों द्वारा दिया गया प्रीमियम और कवरेज की तुलना करनी चाहिए।

  • प्रश्न- अपनी गाड़ी बेचने पर मेरे वाहन बीमा पॉलिसी का क्या होगा?

    उत्तर- अगर आपने अपनी गाड़ी भेज दी तो आपको अपनी चौपाया वाहन बीमा पॉलिसी नए मालिक के नाम पर हस्तांतरित करवानी होगी। नीचे दिए गए कदमों का पालन करके आप नहीं मालिक को बीमा हस्तांतरित कर सकते हैं:

    • आपकोनए खरीदार और भुगतान की जानकारी देकर एक्सएल एफिडेविट बनवाना होगा। यह नोटरी से मान्य होना चाहिए।
    • आरटीओहस्तांतरण फॉर्म भरकर आपको अपने रीजनल ट्रांसपोर्ट ऑफिस आरटीओ से क्लीयरेंस प्रमाण पत्र लेना होगा।
    • नयाप्रपोजल फॉर्म भरे
    • ऊपरदिए गए सभी दस्तावेज साथ में संलग्न कर दे
    • इसेअपने बीमा कंपनी को जमा करें
    • 14 दिनके अंदर अंदर पॉलिसी हस्तांतरित हो जाएगी।
  • प्रश्न- क्या मैं अपनी कार बीमा पॉलिसी की एक प्रतिलिपि ऑनलाइन प्राप्त कर सकता हूं?

    उत्तर- आप अपनी चौपहिया बीमा पॉलिसी को ऑनलाइन अपनी वाहन बीमा कंपनी की वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं। इसके लिए आपको अपने अकाउंट में लॉग इन करना होगा और मांगी गई जानकारी देकर आपको इसकी प्रतिलिपि अपनी ईमेल पर मिल जाएगी। ईमेल पर प्राप्त प्रतिलिपि आप डाउनलोड कर सकते हैं।

  • प्रश्न- मैं किसी चौपहिया बीमा प्लान की उपलब्धता कैसे जान सकता हूं?

    उत्तर- किसी नई कार बीमा प्लान की उपलब्धता जानने के लिए आप उस कंपनी की वेबसाइट देख सकते हैं या उन्हें फोन पर पूछ सकते हैं। कार बीमा पॉलिसी की बहुत सी जानकारी ब्रोकर वेबसाइट जैसे पॉलिसी बाजार डॉट कॉम पर भी मिलती है।

  • प्रश्न- मैं कार बीमा सर्टिफिकेट या पॉलिसी को डाउनलोड कैसे कर सकता हूं?

    उत्तर- कार बीमा पॉलिसी के सर्टिफिकेट डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करें:

    • जिसवेबसाइट से आपने कार बीमा खरीदा था उस पर जाएं
    • डाउनलोडपॉलिसी ऑनलाइन के विकल्प पर जाएं और वेबसाइट पर अपने अकाउंट में लॉगिन करें
    • अपनापॉलिसी नंबर, अन्य जानकारी, मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी डालें
    • आपकीबीमा कंपनी आपको अपने पंजीकृत मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी भेजेगी
    • दिएगए खाली स्थान पर ओटीपी भरें और उसे जमा कर दें
    • बीमाकंपनी आपको आपकी चौपहिया वाहन पॉलिसी /सर्टिफिकेट की एक प्रतिलिपि आपकी ईमेल आईडी पर भेज देगी
    • अपनेईमेल से वाहन बीमा पॉलिसी या सर्टिफिकेट डाउनलोड कर ले
  • प्रश्न- मैं अपनी कार बीमा पॉलिसी का नंबर कैसे जान सकता हूं?

    उत्तर- अपनी कार बीमा पॉलिसी का नंबर जानने के बहुत से तरीके हैं:

    • आपअपनी पॉलिसी का नंबर बीमा कंपनी द्वारा दिए गए बीमा सर्टिफिकेट या पॉलिसी दस्तावेज पर देख सकते हैं।
    • अगरआपका आपकी बीमा कंपनी की वेबसाइट पर अकाउंट है तो आप इसे ऑनलाइन भी देख सकते हैं।
    • अगरआपने चौपाया वाहन पॉलिसी किसी एजेंट से खरीदी है तो आप उससे अपना नंबर पूछ सकते हैं।
    • आपअपनी बीमा कंपनी की नजदीकी ब्रांच पर जाकर या उनसे फोन पर अपना पॉलिसी नंबर पूछ सकते हैं।
    • इंश्योरेंसइनफार्मेशन ब्यूरो (आईआईबी) जो कि भारत के सारे मोटर बीमा पॉलिसी की जानकारी रखती है उसकी वेबसाइट पर जाकर भी आप अपना पॉलिसी नंबर जान सकते हैं।
  • प्रश्न- अगर मेरे कार पॉलिसी दस्तावेज में कोई गलती हो गई है तो मैं क्या कर सकता हूं?

    उत्तर- अगर आपकी कार बीमा पॉलिसी में कोई गलती हो गई है तो आपको तुरंत अपनी बीमा कंपनी को इसके बारे में बता देना चाहिए। आपको सही जानकारी का सबूत देकर बीमा कंपनी को गलती सुधारने के लिए कहना चाहिए। सबूत प्राप्त होने के बाद वह एक नया पॉलिसी दस्तावेज देकर सही जानकारी दे देंगे।

  • प्रश्न- कार बीमा कंपनी ऑनलाइन कम प्रीमियम क्यों लेती है?

    उत्तर- वाहन बीमा कंपनियां ऑनलाइन पॉलिसी खरीदने पर कम प्रीमियम इस ले लेती है क्योंकि ऑनलाइन काम करने पर उनका शुल्क कम हो जाता है। ऑनलाइन पॉलिसी की बिक्री उन्हें बहुत से खर्च जैसे एजेंट कमीशन डिस्ट्रीब्यूशन कॉस्ट स्टेशनरी कॉस्ट आदि से बचा लेती हैं जो कि ऑफलाइन माध्यम में होते ही हैं।

  • प्रश्न- कार क्या ऑनलाइन कार बीमा पॉलिसी एक वैध दस्तावेज है?

    उत्तर- हां। चौपहिया बीमा पॉलिसी जो कि ऑनलाइन दी गई है वह वाहन अधिनियम के अंतर्गत वैध है। हालांकि आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि यह पॉलिसी आईआरडीएआई पंजीकृत बीमा कंपनी से ली गई है।

  • प्रश्न- कार अगर मेरे से अपनी कार पॉलिसी खो गई तो मैं क्या करूंगा?

    उत्तर- अगर आपका ऑनलाइन पॉलिसी दस्तावेज गुम हो जाता है तो उस की प्रतिलिपि लेने के लिए आपको नीचे दिए गए चरणों का पालन करना होगा:

    • अपनीबीमा कंपनी को अपने पॉलिसी दस्तावेज खोलने के बारे में तुरंत बताएं
    • दस्तावेज़होने की पुलिस में एफ आई आर कराएं
    • अपनेबीमा कंपनी को डुप्लीकेट पॉलिसी दस्तावेज देने के लिए आवेदन लिखें। उसमें अपना पॉलिसी नंबर ,आपका नाम, इशु होने की तारीख, पॉलिसी खोने की वजह आदि लिखें।
    • अपनीपॉलिसी दस्तावेज के गुम होने का विज्ञापन राजकीय अखबार में दे
    • अपनीपूरी नाम और दो गवाहों के सामने नोटरी से इंडिमनिटी बॉन्ड ले
    • आवेदनपत्र ,इंडिमनिटी बॉन्ड और एफ आई आर की प्रतिलिपि बीमा कंपनी को जमा करें
    • सारेदस्तावेज प्राप्त करने के बाद आपकी बीमा कंपनी आपको डुप्लीकेट पॉलिसी दस्तावेज दे देगी।

    ऊपर दी गई जानकारी ऑनलाइन देखकर आप बीमा कंपनी की वेबसाइट से भी पॉलिसी की एक प्रतिलिपि डाउनलोड कर सकते हैं।

  • प्रश्न- कार बीमा क्लेम के लिए क्या मुझे एफ आई आर करना जरूरी है?

    उत्तर- किसी किसी क्लेम में आपकी बीमा कंपनी द्वारा यह अनिवार्य किया जाता है कि आपको पुलिस के साथ क्लीन प्रक्रिया के लिए एफआईआर करानी पड़ेगी। जैसे कि थर्ड पार्टी देनदारी या चोरी होने पर होने वाले क्लेम में आपको पुलिस एफआईआर करानी होगी। वही प्राकृतिक आपदाओं के कारण होने वाले नुकसान पर आपको एफ आई आर की कोई जरूरत नहीं होगी।

  • प्रश्न- कार बीमा क्लेम सेटल होने में कितना समय लगता है?

    उत्तर- कार बीमा क्लेम सेटल करने का कोई मानक समय नहीं। एक बीमा कंपनी से दूसरे बीमा कंपनी में अलग अलग हो सकता है। जैसे कोई कंपनी आपका क्लेम 7 दिन में से टिकट देगी तो कोई कंपनी उसे 14 दिन में सेटल करेगी। साथी मुश्किल क्लेम आसान क्लेम से सेटल होने में ज्यादा समय लेते हैं जैसे कार डेंट।

  • प्रश्न- मैं अपनी कार बीमा पॉलिसी का स्टेटस कैसे देख सकता हूं?

    उत्तर- अपनी कार बीमा पॉलिसी का स्टेटस देखने के लिए आपको पॉलिसी की शुरुआती तारीख और आखिरी तारीख अपनी पॉलिसी दस्तावेज पर देखनी होगी। आपकी पॉलिसी इन दोनों तिथियों के बीच जारी रहेगी। वहीं पर आपकी पॉलिसी की स्थिति से पहले और स्थिति के बाद जारी नहीं रहेगी।

  • प्रश्न- मैं अपनी चारपहिया वाहन बीमा अपनी गाड़ी के खरीदार को कैसे हस्तांतरित कर सकता हूं?

    उत्तर- किसी वाहन बीमा पॉलिसी को अपने नाम पर करवाने के लिए आपको निम्नलिखित चरणों का पालन करना होगा:

    • आरटीओमें पुराने पॉलिसी धारक के हस्ताक्षर के साथ फॉर्म 28, 29 और 30 भरे
    • भरेहुए फॉर्म को वाहन बेच के सबूत के साथ आरटीओ में जमा करें
    • आरटीओसे क्लीयरेंस प्रमाण पत्र प्राप्त करें
    • आवेदनपत्र, पुराना पॉलिसी दस्तावेज, अपने नाम के साथ मूल आरसी, पुराने खरीदार से प्राप्त एनओसी ,आदि दस्तावेज मोटर बीमा कंपनी को दें
    • हस्तांतरणशुल्क भरे
    • पॉलिसीआपके नाम पर हस्तांतरित हो जाएगी और नया पॉलिसी दस्तावेज जारी कर दिया जाएगा
  • प्रश्न- क्या मुझे अपनी गाड़ी के लिए बीमा खरीदना जरूरी है?

    उत्तर- आपको अपनी गाड़ी को चौपहिया बीमा पॉलिसी के तहत बीमित करवाना अनिवार्य है क्योंकि भारत में थर्ड पार्टी कवर लेना अनिवार्य है। मोटर वाहन अधिनियम 1988 के अनुसार वैद्य बीमा पॉलिसी के बिना कोई गाड़ी कानूनी रूप से रोड पर नहीं चल सकती। इसके अतिरिक्त चार पहिया बीमा आपके वाहन को दुर्घटना ,आग ,थर्ड पार्टी देनदारी, प्राकृतिक आपदा, चोरी, मानव कृत आपदा जैसे सभी नुकसान और खराबी से सुरक्षित रखता है।

  • प्रश्न- कार बीमा पॉलिसी ऑनलाइन खरीदने में या रिन्यू करने में कितना समय लगता है?

    उत्तर- कार बीमा पॉलिसी ऑनलाइन खरीदने गया रिन्यू करने का एक सबसे बड़ा फायदा यह है कि यह एक तेज प्रक्रिया है और इसमें ज्यादा समय नहीं लगता। अगर आपके पास अपनी चौक पहिया पॉलिसी की सभी जानकारी है तो आपको पॉलिसी खरीदने या रिन्यू करने मेंकुछ मिनट से ज्यादा नहीं लगेंगे।

  • प्रश्न- समाप्त हुए का बीमा को मैं ऑनलाइन रिन्यू कैसे कर सकता हूं?

    उत्तर- समाप्त हुए का बीमा को रिन्यू करते समय आपको वाहन की जांच करवानी पड़ सकती है।जहां कई बीमा कंपनियां अपने आप जांच की अनुमति देते हैं वहीं कई बीमा कंपनी आपकी वाहन की स्थिति देखने के लिए सर्वेयर को भी भेज सकते हैं। दूसरे केस में आपको सर्वेयर के साथ समय तय करना होगा और बीमा कंपनी से बात करनी होगी। सर्वे समाप्त होने के बाद नीचे दिए गए चरणों का पालन करके आप अपनी समाप्त हुई चार पहिया बीमा पॉलिसी को ऑनलाइन रिन्यू कर सकते हैं:

    • जिसवेबसाइट से आप अपना वाहन बीमारी नहीं करना चाहते हैं उस पर जाएं
    • कारऑनलाइन पॉलिसी रिनुअल के विकल्प पर जाएं
    • अपनीएक्सपोर्ट पॉलिसी नंबर और अन्य जानकारी दें
    • अपनीवाहन की जानकारी देखें
    • कवरेजका प्रकार चुनें
    • अपनेआप जांच की स्थिति में अपनी गाड़ी की तस्वीरें अपलोड करें
    • पॉलिसीरिनुअल प्रीमियम का ऑनलाइन भुगतान करें
    • आपकीएक्सपायर्ड पॉलिसी रिन्यू हो जाएगी
  • प्रश्न- अगर मैंने कार बीमा पॉलिसी ऑनलाइन खरीदी या रिन्यू करी तो मुझे पॉलिसी दस्तावेज मिलने में कितना समय लगेगा?

    उत्तर- अगर आपने कार बीमा ऑनलाइन लिया है तो आपको प्रीमियम भरने के कुछ ही मिनटों में अपने पंजीकृत ईमेल आईडी पर पॉलिसी दस्तावेज मिल जाएंगे।

  • प्रश्न- ऑनलाइन का बीमा पॉलिसी रिन्यू करना सुरक्षित है?

    उत्तर- हां, ऑनलाइन कार बीमा रिन्यूअल बहुत सुरक्षित है। हालांकि सिक्योर पेमेंट गेटवे होने के कारण ऑनलाइन फ्रॉड का मौका कम रहता है और ऑनलाइन पॉलिसी खरीदना यह रिन्यू करना ऑफलाइन से बेहतर विकल्प है।

  • प्रश्न- कार पॉलिसी रिन्यू कराने का शुल्क कितना है?

    उत्तर- चार पहिया बीमा पॉलिसी रिन्यू कराना बहुत से कारणों पर आधारित होता है जैसे गाड़ी की उम्र, उसकी इंजन की क्यूबिक क्षमता और आपकी गाड़ी की बनावट और उसका मॉडल। इसके साथ-साथ अतिरिक्त कवर दे जाते बल और नो क्लेम बोनस भी का बीमा पॉलिसी रिनुअल प्रीमियम को प्रभावित करता है।

  • प्रश्न- क्या कार बीमा पॉलिसी यात्रियों को भी कवर करती है?

    उत्तर- अधिकतर बीमा कंपनियां यात्रियों को चार पहिया बीमा में कवर नहीं करती है।हालांकि वाहन बीमा कंपनी द्वारा भारत में यात्री कवर एक अतिरिक्त कवर के रूप में दिया जाता है जिसमें पर्सनल एक्सीडेंट होने पर सभी यात्रियों को कवर दिया जाता है।

  • प्रश्न- क्या कार बीमा पॉलिसी टायर के नुकसान को कवर करती है?

    उत्तर- बहुत सी मोटर बीमा कंपनी केवल दुर्घटना हित वाहन टायर का नुकसान को ही कवर करती है। हालांकि आप अपने टायर को सुरक्षित रखने के लिए ऐड ऑन कर ले सकते हैं और टायर को अपनी चार पहिया बीमा पॉलिसी में कवर कर सकते हैं।

  • प्रश्न- क्या मेरी कार पॉलिसी इलेक्ट्रिकल आग को कवर करती है?

    उत्तर- हां। इलेक्ट्रिकल आग के कारण हुए किसी भी नुकसान और खराबी को चार पहिया बीमा कवर करती है।

  • प्रश्न- क्या भारत में कार बीमा खरीदना अनिवार्य है?

    उत्तर- हां। सभी कार मालिकों के लिए भारत में मोटर बीमा के साथ न्यूनतम थर्ड पार्टी कवर लेना जरूरी है। मोटर वाहन अधिनियम 1988 के अनुसार थर्ड पार्टी बीमा के बिना कोई भी गाड़ी कानूनी रूप से रोड पर नहीं चल सकती है। इस नियम को तोड़ने वालों को सजा भी हो सकती है।

  • प्रश्न- गाड़ी चोरी होने की स्थिति में कलेम करने की प्रक्रिया क्या है?

    उत्तर- अगर आपकी गाड़ी चोरी हो गई है तो आपको बीमा कंपनी के साथ क्लेम करना चाहिए। चोरी होने पर क्लेम करने की प्रक्रिया नीचे दी गई है:

    • गाड़ीचोरी होते ही पुलिस के साथ एफ आई आर दर्ज करें
    • अपनीबीमा कंपनी को अपने कार चोरी होने के बारे में बताएं
    • आरटीओको चोरी के बारे में बताएं
    • क्लेमफॉर्म, एफ आई आर. कॉपी ,आरसी आदि बीमा कंपनी को जमा करें।
    • पुलिससे नो ट्रेस रिपोर्ट प्राप्त करें
    • बीमाकंपनी आपका क्लेम आगे बढ़ा देगी और आपकी गाड़ी की आईडी भी आपको 90 दिन में मिल जाएगी
  • प्रश्न- अपने कलेम रद्द करने के लिए मुझे क्या करना होगा?

    उत्तर- आप बीमा क्लेम अपनी मोटर बीमा कंपनी से बात कर कर और उन्हें अपने क्लेम रद्द करने के फैसले के बारे में बता कर रद्द कर सकते हैं। अगर कोई इंस्पेक्शन होने वाला है तो आप अपने सर्वेयर को भी अपने क्लेम रद्द करने के फैसले के बारे में बता सकते हैं। हालांकि आप अपनी बीमा कंपनी के साथ कोई थर्ड पार्टी लायबिलिटी रद्द नहीं कर सकते जिसमें आपकी गलती से कोई थर्ड पार्टी नुकसान या खराबी हुई हो।

  • प्रश्न- अगर मैं अपनी एक्सपायर्ड कार पॉलिसी को रिन्यू करता हूं तो मेरे नो क्लेम बोनस का क्या होगा?

    उत्तर- अगर आप एक्सपायरी के 90 दिन के अंदर अंदर अपनी पॉलिसी रिन्यू करते हैं तो नो क्लेम बोनस वैसे ही रहेगा। हालांकि अगर आपने भी दिन बाद अपनी पॉलिसी रिन्यू करते हैं तो आपका नो क्लेम बोनस समाप्त हो जाएगा।

  • प्रश्न- बिना वैध कार बीमा के गाड़ी चलाने पर क्या जुर्माना लगता है?

    उत्तर- अगर आप बिना वैध कार बीमा के वाहन चलाते हुए पकड़े जाते हैं तो पहली बार आपको ₹2000 का जुर्माना लगेगा या और आपको 3 महीने तक की जेल भी हो सकती है।अगर आप दोबारा बिना वेद बीमा के गाड़ी चलाते हुए पकड़े गए तो आपको ₹4000 का जुर्माना या और 3 महीने तक की जेल भी हो सकती है।

Written By: PolicyBazaar - Updated: 19 January 2021
You May Also Like
Search
Disclaimer: Policybazaar does not endorse, rate or recommend any particular insurer or insurance product offered by an insurer.
Calculate your car IDV
IDV of your vehicle
Calculate IDV
Calculate Again

Note: This is your car’s recommended IDV as per IRDAI’s depreciation guidelines.asdfsad However, insurance companies allow you to modify this IDV within a certain range (this range varies from insurer to insurer). Higher the IDV, higher the premium you pay.Read More

Policybazaar lets you compare premium prices from 20+ Insurers!
Compare Prices